पहला वादा निभाया: कुमार विश्वास

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: आम आदमी पार्टी के कुमार व्श्वास ने कहा है कि हमने अपना पहला वादा निभाया है. गौरतलब है कि रविवार को शाम को घोषणा की गई है कि दिल्लीवासियों को प्रतिमाह 20,000 लीटर पानी मुफ्त में दिया जायेगा. जिसका अर्थ है कि प्रतिदिन 666 लीटर पानी दिल्लीवासियों को मुफ्त में मिलेगा. यह सुविधा फिलहाल केवल तीन माह के लिये किया गया है.

इसको लेकर जहां आम लोग उत्साहित हैं वहीं दिल्ली कांग्रेस के संदीप दीक्षित ने सवाल उठाया है कि आप के घोषणा पत्र के अनुसार दिल्ली के पचास फीसदी घरों तक पानी नहीं पहुंच पाता है पहले उसकी तो व्यवस्था की जाये. संदीप दीक्षित ने तीन माह के लिये फैसले पर भी सवाल उठाया है. बहरहाल आम आदमी पार्टी ने इस बात का तो संकेत दे दिया है कि वह अपने घोषणा पत्र को लागू करने के लिये कृत संकल्प है.

सरकार का यह निर्णय हालांकि इस शर्त के साथ आया है कि अगर वे इससे ज्यादा पानी की खपत करते हैं तो उन्हें पहली जनवरी से 10 फीसदी वृद्धि के साथ पूरे पानी का बिल भरना होगा. आम आदमी पार्टी ने अपने चुनाव घोषणा पत्र में 700 लीटर मुफ्त देने का वादा किया था.

दिल्ली जल बोर्ड ने मुफ्त पानी देने के बारे में केजरीवाल के कौशांबी स्थित आवास पर बैठक के बाद घोषणा की. पहले तीन महीने तक मुफ्त पानी की खर्च जल बोर्ड द्वारा वहन किया जाएगा.

दिल्ली जल बोर्ड के सदस्य संदीप तंवर ने इससे पहले कहा था कि नियमित कनेक्शन वाले सभी घरों को 700 लीटर पानी मुफ्त दिया जाएगा. लेकिन सोमवार की बैठक के बाद 20 किलोलीटर प्रतिमाह यानी करीब 667 लीटर पानी प्रतिदिन देने का फैसला किया गया.

केजरीवाल बीमार होने की वजह से सोमवार को कार्यालय नहीं गए लेकिन अपने आवास पर उन्होंने पूरे दिन काम किया. नवगठित सरकार ने अपना पहला वादा पूरा करते हुए मीटर लगे सभी घर को 667 लीटर पानी प्रतिदिन निशुल्क देने की घोषणा की.

संदीप ने सवालिया लहजे में कहा, “बाद में उन्होंने इसमें विरोधाभास पैदा कर दिया कि सिर्फ उन्हीं लोगों को यह सुविधा मिलेगी जिन्होंने पानी के मीटर लगवा रखे हैं.. इस तरह तो दिल्ली की आधी आबादी को पानी मिल ही नहीं पाएगा. इस आधी आबादी का क्या होगा.”

आप सरकार ने एक अन्य फैसले में दिल्ली के आटोरिक्शा को 5500 अंतर्राज्यीय परमिट जारी करने की बात कही. परिवहन मंत्री सौरभ भारद्वाज ने यह फैसला किया जिससे लोग राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आ-जा सकें. इस तरह अब लोगों को गुड़गांव और नोएडा जाने में सुविधा होगी.

दिल्ली सरकार ने शराब माफिया के हमले में मारे गए आबकारी विभाग के सिपाही को एक करोड़ रुपये मुआवजा देने की घोषणा की. सिपाही विनोद कुमार पर वसंत कुंज के नजदीक घिटोरनी के जंगल में हमला किया गया था. बाद में अस्पताल में उन्होंने दम तोड़ दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *