फ्लिपकार्ट पर टूट पड़े 1 अरब ग्राहक

बेंगलुरू | एजेंसी: कौन कहता है कि छूट देने से व्यापार में इज़ाफा नहीं होता है. जी हां, ऑनलाइन ई-रिटेल कंपनी फ्लिपकार्ट ने छूट क्या दिये कि उस पर 1 अरब ग्राहक इंटरनेट के माध्यम से टूट पड़े. नतीजा उसका सर्वर ही कुछ समय के लिये बैठ गया. आखिरकार, जब सर्व में सुधार किया गया तो फ्लिपकार्ट ने 615 करोड़ रुपये का व्यापार कर लिया था. देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन ई-रिटेल कंपनी फ्लिपकार्ट डॉट कॉम ने सोमवार को कई उत्पादों पर भारी छूट दी. छूट का लाभ उठाने के लिए ग्राहक वेबसाइट पर टूट पड़े. इस दौरान वेबसाइट को एक अरब हिट मिले और इससे 10 करोड़ डॉलर अर्थात् 615 करोड़ रुपये के सामान खरीदे गए. बेंगलुरू की कंपनी ने यहां एक बयान जारी कर कहा, “हमारी वेबसाइट को सोमवार को एक अरब हिट मिले और हमने 24 घंटे में 10 करोड़ डॉलर अर्थात् 615 करोड़ रुपये बिक्री का लक्ष्य सिर्फ 10 घंटे में हासिल कर लिया.”

छूट का ऑफर शुरू होने के कुछ ही घंटे के भीतर बड़ी संख्या में लोगों द्वारा वेबसाइट खोलने के कारण वेबसाइट क्रैश दोपहर के वक्त क्रैश हो गई थी. इसके बाद सोशल मीडिया पर कंपनी के खिलाफ काफी शिकायते आने लगी कि वेबसाइट चल नहीं पा रही है और कंपनी ने छूट से पहले सामान के दाम बढ़ा दिए हैं.

कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, “एक आंतरिक सर्वर समस्या पैदा हो गई थी, जिसकी वजह से ट्रैफिक बढ़ने कारण कुछ समय के लिए ऑनलाइन ऑर्डर हासिल करने में दिक्कत आ गई थी. इस समस्या को दूर कर लिया गया है और ट्रैफिक क्षमता बढ़ा दी गई है. अब वेबसाइट को खोला जा सकता है.”

सोमवार छह अक्टूबर का दिन कंपनी के लिए विशेष मायने रखता है. छह अक्टूबर यानी 6-10, का संबंध 610 से है. इसी संख्या के मकान में ही 2007 में फ्लिपकार्ट के सह-संस्थापक सचिन बंसल और बिन्नी बंसल ने देश की सबसे पहली ई-कॉमर्स कंपनी की अपनी यात्रा शुरू की थी. कंपनी ने इस दिन कई उत्पादों पर भारी छूट देने का फैसला किया.

बंसल बंधुओं ने एक बयान में कहा, “यह हमारे लिए अभूतपूर्व दिन है. यह देश में हमारी अब तक की सबसे बड़ी बिक्री है. हम सुबह 8 बजे से ही ग्राहकों से मिल रही प्रतिक्रिया से उत्साहित हैं.”

कंपनी ने प्रमुख समाचारपत्रों में छूट के विज्ञापन दिए थे. इसके कारण ग्राहक वेबसाइट पर सामान खरीदने के लिए टूट पड़े.

कंपनी ने कह, “हमने भारतीय ई-कॉमर्स क्षेत्र में एक इतिहास रच दिया है.”

फ्लिपकार्ट किताबें, मीडिया, उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स और जीवनशैली जैसी 70 श्रेणियों में 1.5 करोड़ उत्पाद बेचती है और देश के 50 शहरों में एक दिन के अंतर से आपूर्ति तथा 13 शहरों में उसी दिन आपूर्ति की गारंटी देती है.

कंपनी के मुताबिक, उसके 2.2 करोड़ पंजीकृत उपयोगकर्ता हैं और हर रोज 40 करोड़ लोग वेबसाइट खोलते हैं.

कंपनी ने ग्राहकों को समय पर सामानों की आपूर्ति करने के लिए 10 हजार फील्ड कर्मचारी तैनात किए हुए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *