न्याय की आस में पटना पहुंचे परिजन

पटना | एजेंसी: पश्चिम बंगाल में सामूहिक दुष्कर्म के बाद आग के हवाले की गई 16 वर्षीय किशोरी के माता-पिता बिहार की राजधानी पटना में न्याय मिलने की उम्मीद में पहुंचे हैं. अधिकारियों ने कहा कि वे सोमवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मिलने जा रहे हैं. पीड़िता के टैक्सी चालक पिता ने संवाददाताओं से कहा, “यदि बंगाल में नहीं तो मुझे कम से कम अपने राज्य बिहार में न्याय मिलने की उम्मीद है.”

उन्होंने बताया कि उनका परिवार मूल रूप से समस्तीपुर जिले का रहने वाला है और आजीविका की तलाश में उत्तर 24 परगना जिले के मध्यनगरम इलाके में रहता था.


उन्होंने कहा, “हम न्याय पाने के लिए आए हैं, यह मेरी धरती है.”

उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि बिहार सरकार मामले को गंभीरता से लेगी और उसकी मृत पुत्री को न्याय दिलाएगी.

पीड़िता की मां ने कहा कि यह बड़ी बिडम्बना है कि पश्चिम बंगाल में एक महिला के मुख्यमंत्री होने के बावजूद उनकी बेटी को न्याय नहीं मिला.

नीतीश कुमार ने पीड़िता के परिवार को एक लाख रुपये का सहयोग देने की घोषणा की थी और बिहार पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी जी.एस.गंगवार को कोलकाता में उसके माता-पिता से मुलाकात करने के लिए भेजा था.

लड़की के साथ एक गिरोह ने पिछले वर्ष अक्टूबर में दो बार सामूहिक दुष्कर्म किया था और 23 दिसंबर को उसे जला दिया. उसकी मौत 31 दिसंबर को हो गई थी.

लड़की के पिता ने कलकत्ता उच्च न्यायालय में अपील करके मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की थी.

परिवार ने पश्चिम बंगाल पुलिस पर आरोप लगाया कि वह उनको राज्य छोड़ने के लिए दबाव डाल रही है. परिवार ने मंगलवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की और दोषियों के लिए मौत की सजा की मांग की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!