नेपाल में ईंधन की किल्लत

काठमांडू | समाचार डेस्क: भारतीय आपूर्ति बाधित होने से नेपाल में ईंधन और अन्य आवश्यक वस्तुओं की किल्लत पैदा हो गई है. इसके बाद वहां वाहनों के संचालन के लिए नए नियम लागू कर दिए हैं जिनके तहत पंजीकरण संख्या के आधार पर ही वाहन सड़क पर उतर सकते हैं. सरकार ने रविवार से वाहनों पर सम और विषम संख्या के नंबर प्लेट की सीमा लगाई. इसके तहत सम पंजीकरण संख्या वाले वाहन सम तिथि को और विषम संख्या वाले वाहन विषम तिथि को चलाए जाएंगे. नेपाल के गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “भारत की ओर से अघोषित आर्थिक प्रतिबंधों के चलते हमने नए नियम लागू किए हैं.”

देश में ईंधन किल्लत के चलते विमानन कंपनियों को भी विदेश में ही ईंधन लेने की सलाह दे दी गई है. नेपाल के नागरिक उड्डयन प्राधिकरण के महानिदेशक संजीव गौतम ने कहा, “संभावित ईधन संकट को देखते हुए हमने अंतरराष्ट्रीय एयरलाइनों को औपचारिक रूप से स्थिति से अवगत करा दिया है.”


रविवार को जमुनिहा चौकी से भारत से सिर्फ तीन तेल टैंकर, दो ट्रक आलू और एक ट्रक प्याज नेपाल आया. अधिकारियों ने कहा कि भारत उन्हीं वस्तुओं को आने दे रहा है, जो सड़ सकता है.

सीमा व्यापार के अवरुद्ध होने पर नेपाल के विदेशी मंत्रालय ने रविवार को चिंता जताई.

मंत्रालय ने कहा कि इस अवरोध से नेपाल में आवश्यक वस्तुओं की 23 सितंबर के बाद से किल्लत पैदा हो गई है, जबकि तराई क्षेत्र में सुरक्षा की स्थिति में कुछ सुधार ही हुआ है.

नेपाल एलपील गैस इंडस्ट्रीज एसोसिएशन ने कहा कि भारत की ओर से प्रतिबंध थोपे जाने की वजह से किसी भी रिफीलिंग संयंत्र में समुचित रसोई गैस उपलब्ध नहीं है.

नेपाल में 20 सितंबर को लागू नए संविधान के कुछ प्रावधानों पर भारत द्वारा नाराजगी जताए जाने के बाद गत चार दिनों से दोनों देशों में कूटनीतिक गतिरोध बना हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!