आंध्र विधानसभा में तेलंगाना विधेयक पर बवाल

हैदराबाद | एजेंसी: आंध्र प्रदेश के विभाजन के मसले पर राज्य विधानसभा में मंगलवार को फिर हंगामा शुरू हो गया. तेलंगाना क्षेत्र के विधायक जहां विधेयक पर जल्द चर्चा कराए जाने की मांग कर रहे हैं, वहीं सीमांध्र (तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा) के विधायक इसका विरोध कर रहे हैं.

इस शोरगुल के बीच अध्यक्ष नादेंदला मनोहर ने कार्यवाही स्थगित कर दी और आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक 2013 पर चर्चा के समय और तौर-तरीके पर फैसले के लिए कार्य मंत्रणा समिति (बीएसी) की बैठक बुलाई.

अध्यक्ष के सदन में प्रवेश करने से पहले ही तेलंगाना और सीमांध्र के विधायकों ने उनकी आसंदी घेर ली और नारेबाजी की.

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) ने विधायी कार्यो के मंत्री डी.श्रीधर बाबू से सदन में चर्चा बरकरार रखने की मांग की. विधेयक सोमवार को सदन में पेश किया गया है. इधर, सीमांध्र के विधायकों ने बीएसी की बैठक में आने वाले फैसले के बाद चर्चा की मांग की.

वाईएसआर कांग्रेस ने केंद्र से संयुक्त आंध्र प्रदेश बने रहने देने की अपील करने के लिए एक प्रस्ताव पारित करने की मांग की. मुख्य विपक्षी तेलुगू देश पार्टी (तेदेपा) ने तेलंगाना गठन पर राज्य और केंद्र सरकार के रवैये पर बहस की मांग की.

अध्यक्ष ने सोमवार को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के पत्र के साथ विधेयक को सदन में पेश किया था, जिन्होंने इसे 23 जनवरी तक वापस भेजने की मांग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *