फ्रांस में समलैंगिक शादी कानूनी

पेरिस: समलैंगिक शादी को अब फ्रांस में भी कानूनी मान्यता मिल गई है. यह दुनिया का 14वां ऐसा देश है, जहां समलैंगिक शादी करना कोई गुनाह नहीं होगा. शनिवार को फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने समलैंगिक शादियों को मंज़ूरी देने वाले विधेयक पर हस्ताक्षर करते हुये कहा कि यह ज़रूरी है कि देश में क़ानून का सम्मान किया जाए.

गौरतलब है कि समलैंगिक विवाह के खिलाफ यूएमपी जैसी दक्षिणपंथी पार्टियों की दलील को संवैधानिक परिषद ने पहले ही खारिज कर दिया था. परिषद ने कहा था कि समलैंगिक शादी सांवैधानिक मूल्यों के ख़िलाफ़ नहीं है और न ही यह आज़ादी के मूल अधिकार का उल्लंघन करती है और न ही देश की संप्रभुता के खिलाफ़ है.


हालांकि समलैंगिक शादियों के खिलाफ रही फ़्रांस के पूर्व राष्ट्रपति निकोला सरकोज़ी की पार्टी यूएमपी ने कहा है कि यह एक खराब फैसला है और समाज को इसकी बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. सरकोजी के साथ कैथोलिक और प्रोटेस्टेंट चर्च भी समलैंगिक शादी का विरोध कर रहे हैं. इन लोगों ने ने जनवरी में पेरिस में एक बड़ी रैली की थी. लेकिन इनकी आवाज अनसुनी रह गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!