US में सामूहिक गे हत्याकांड

वाशिंगटन | समाचार डेस्क: अमरीका के एक क्लब में समलैंगिकों के सामूहिक हत्याकांड से दुनियाभर में सनसनी मच गई. उमर मतीन नाम के एक अमरीकी नागरिक ने ऑरलैंडो के ‘पल्स नाइट क्लब’ में अंधाधुंध गोलीबारी करके 50 समलैंगिको को मार डाला तथा 30 को बंधक बना लिया था. पुलिस ने हत्यारे उमर मतीन को मार गिराया. इस घटना में 53 लोगों के मारें जाने की खबर है. इसे हाल के वर्षो के सबसे बड़े सामूहिक हत्याकांड माना जा रहा है. इससे पहले दुनिया में कहीं पर भी समलैंगिको की इस तरह के सामूहिक हत्या की खबर नहीं है.

Orlando Pulse Night Club Shooting Articles Published Day Before


बताया जा रहा है कि हत्यारे उमर मतीन के इस्लामिक स्टेट से संबंध हैं. इसकी सूचना मतीन ने खुद ही हेल्पलाइन को फोन करके दी थी. अमरीका के ऑरलैंडो के समलैंगिक नाइटक्लब में रविवार को हुई गोलीबारी में कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई और 53 अन्य घायल हो गए. ऑरलैंडो के मेयर बडी डायर ने यह जानकारी दी.

ISIS claims mass shooting at gay nightclub

कई समाचार संस्थानों ने फ्लोरिडा राज्य में स्थित इस क्लब में गोलीबारी करने वाले की पहचान 29 वर्षीय उमर मतीन के रूप में की है. वह फ्लोरिडा के फोर्ट पाएर्स का रहने वाला था.

ऑरलैंडो के मेयर डायर ने एक संवाददाता सम्मेलन में अंधाधुंध गोलीबारी में 50 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की. इससे पहले मरने वाले लोगों की संख्या 20 बताई गई थी.

वाशिंगटन पोस्ट ने कहा कि गोली चलाने वाले की पहचान की पुष्टि उसके रिश्तेदारों और कानून लागू करने वाले अधिकारियों ने की है.

बीबीसी की रपट के मुताबिक, गोलीबारी के लगभग तीन घंटे बाद पुलिस पल्स क्लब पहुंची और उसने हमलावर को मार गिराया. हमलावर ने 30 लोगों को बंधक बना रखा था.

पुलिस ने इसे आतंकवादी घटना बताया, लेकिन साथ में यह भी कहा कि उन्हें नहीं पता कि यह घरेलू आतंकवाद की घटना है या अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद की.

क्लब के अंदर मौजूद एक प्रत्यक्षदर्शी ने इसका अराजकता की स्थिति के रूप में उल्लेख किया. मृतकों की संख्या बढ़ सकती है.

Orlando Nightclub Eyewitness

प्रत्यक्षदर्शी ने कहा, “पार्किंग में हर जगह शव ही शव थे. पुलिस लोगों को लाल और पीले रंग में टैग कर रही थी, ताकि यह पता करने में आसानी हो सके कि किसकी पहले मदद करनी है. पैंट नीचे थी, कमीजें बाहर निकली हुई थी. गोली कहां लगी है, इसका पता लगाया जा रहा था. हर जगह खून ही खून था.”

घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरा फुटेज में दर्जनभर वाहनों को आते और लोगों का रास्ते में उपचार होते देखा जा सकता है.

कुछ घायलों को पुलिस की गाड़ियों में ऑरलैंडो क्षेत्रीय चिकित्सा केंद्र में ले जाया गया.

एक महिला ने बताया कि उसे क्लब के भीतर मौजूद उसकी बेटी से संदेश और फोन आया. उसने बताया कि उसे बाजू में गोली लगी है.

कुछ प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि उन्होंने घटनास्थल से 40-50 गोलियों की आवाजें सुनी.

क्लब में 100 से अधिक लोग मस्ती कर रहे थे, और इसी दौरान हमलावर ने स्थानीय समयानुसार रात लगभग दो बजे गोलीबारी शुरू कर दी.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, “हमने कई बार गोलियां चलने की आवाजें सुनी. जिस कमरे में मैं था, वहां लोग फर्श पर लेट गए. मैं हमलवार को नहीं देख पाया. कुछ देर के लिए गोली की आवाज आनी रुक गई. हम लोगों में से एक दल उठा और बाहर गया. उसके बाद हमें बाहर निकलने का रास्ता मिला. मैं दौड़ गया.”

वर्ष 2015 में अमरीका में गोलीबारी की ऐसी घटनाएं जिनमें चार या उससे अधिक लोग मारे गए या घायल हुए 372 हुई थीं. उनमें कुल 475 लोगों की मौत हुई और 1870 घायल हुए थे.

ऑरलैंडो में 22 वर्षीया गायिका क्रिस्टिना ग्रिमी की भी कंसर्ट के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई. इसे इतिहास का सबसे बड़ा सामूहिक गे हत्याकांड माना जा रहा है. उधर अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे आतंकी घटना माना है.

Obama Labels Shooting Act Of Terrorism

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!