अच्छी फिल्म, दर्शको की पसंद: के के मेनन

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: फिल्म ‘रहस्य’ में मुख्य किरदार करने वाले के के मेनन का कहना है कि यदि फिल्म अच्छी हो तो उसे दर्शक जरूर पसंद करते हैं. उनका मानना है कि इसके लिये फिल्म का विवादित होना जरूरी नहीं है. फिल्म ‘रहस्य’ के अभिनेता के के मेनन का सोचना कुछ इस तरह से है कि नामी होने के लिये बदनाम होने की जरूरत नहीं पड़ती है. के के मेनन का मानना है कि फिल्म की कहानी उसे मशहूर करने के लिये काफी होती है. दर्शक उसी फिल्म को पसंद करते हैं जिसकी कहानी अच्छी होती है. के के मेनन का मानना है कि दर्शक जुटाने के लिये फिल्म को विवादित बनाने की जरूरत नहीं है. उल्लेखनीय है कि उनकी फिल्म ‘रहस्य’ देश के सबसे चर्चित तथा विवादित हत्याकांड, आरुषि तलवार हत्याकांड पर आधारित बताई जा रही है. अभिनेता के के मेनन की फिल्म ‘रहस्य’ शुक्रवार को रिलीज हो गई. यह फिल्म कथित तौर पर आरुषि तलवार हत्याकांड पर आधारित होने की वजह से विवादों में है. मेनन कहते हैं कि दर्शक जुटाने के लिए फिल्म को वाद-विवाद पैदा करने की जरूरत नहीं है. यह पूछे जाने पर कि रिलीज पूर्व होने वाले विवाद फिल्म के लिए किसी तरह फायदेमंद होते हैं? जवाब में मेनन ने कहा, “मेरे खयाल से यह बहुत ही गलत सोच है. मुझे नहीं लगता कि एक फिल्म को मशहूर होने के लिए विवाद की जरूरत है. फिल्म अपनी खुद की खूबी पर चलनी चाहिए.”

उन्होंने कहा, “अगर आपकी फिल्म असल में अच्छी है, तो दर्शक इसे पसंद करेंगे.”


बांबे हाईकोर्ट ने हाल में दंत चिकित्सक दंपती नुपुर व राजेश तलवार की वह याचिका खारिज कर दी, जिसमें उन्होंने ‘रहस्य’ की रिलीज रोकने की मांग की थी. उनका कहना है कि फिल्म उनकी बेटी आरुषि व घरेलू नौकर हेमराज की हत्या पर आधारित है.

मेनन ने इस बारे में कहा, “आरुषि तलवार हत्याकांड चर्चित है, इसलिए लोग इससे तुलना कर रहे हैं. यह एक काल्पनिक कहानी है. इस कहानी का आरुषि हत्याकांड से कुछ लेना-देना नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!