अब हनुमान जी का जाति प्रमाण पत्र

वाराणसी | डेस्क: अब उत्तरप्रदेश में सरकार से हनुमान जी का जाति प्रमाण पत्र मांगा गया है. इसके लिये बजाप्ता आवेदन भी किया गया है कि सरकार उनका जाति प्रमाण पत्र जारी करे.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पिछले दिनों राजस्थान के अलवर में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि ‘बजरंगबली एक ऐसे लोक देवता हैं, जो स्वयं वनवासी हैं, निर्वासी हैं, दलित हैं, वंचित हैं. भारतीय समुदाय को उत्तर से लेकर दक्षिण तक पुरब से पश्चिम तक सबको जोड़ने का काम बजरंगबली करते हैं.’


उनके इस बयान के बाद बाबा रामदेव ने उन्हें जहां ब्राम्हण बताया था, वहीं एक जैन मुनी ने उन्हें जैन समाज का बताया था. इसके बाद से लगातार हनुमान जी की जाति को लेकर सवाल उठे थे.

अब प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के युवजन सभा ने जाति प्रमाण पत्र प्राप्त का आवेदन फॉर्म भर कर यह जानकारी वाराणसी प्रशासन से मांगी है. इस आवेदन में हनुमान जी का विस्तृत विवरण भी भरा गया है.

बजरंगबली के पिता का नाम महाराज केशरी बताया गया है, वहीं जाति में वनवासी लिखा हुआ है. युवजन सभा ने मुख्यमंत्री के बयान को आधार बना कर हनुमान जी के लिये आरक्षण की भी मांग की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!