खड़े रहना स्वास्थ्यवर्धक

नई दिल्ली | एजेंसी: अगर आप स्वस्थ जीवन और लंबे समय तक जीना चाहते हैं दिन में कम से कम दो घंटे तक खड़े रहने की कोशिश करें. अगर आप खड़े रहने की समयावधि चार घंटे तक बढ़ा सकते हैं तो इससे आपका ही फायदा होगा, यह दावा ब्रिटिश स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों में किया गया है.

स्वस्थ रहने के लिए कार्यालय में काम करने वाले कर्मचारियों को कम से कम रोजाना दो घंटे तक खड़े रहना चाहिए. यह दिशानिर्देश स्पोर्ट्स मेडिसिन ब्रिटिश जनरल में प्रकाशित की गई है. दिशानिर्देश पब्लिक हेल्थ इंग्लैंड और नॉन-प्रोफिट ऑर्गेनाइजेशन एक्टिव वíकंग सीआईसी द्वारा जारी की गई है.


लेकिन कार्यालय में ही क्यों?

कार्यालय से घर जाते समय, मेट्रो ट्रेन या बस में खड़े रहना काफी है? क्या कार्यालय में जो व्यक्ति खड़ा होगा उसे ही स्वास्थ्य लाभ होगा?

नई दिल्ली के बीएलके सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के आर.के. सिंघल ने कहा, “यह साबित हो गया है कि खड़े रहना बैठने की तुलना में ज्यादा कैलोरी कम करता है, जब हम ऑफिस या मेट्रो ट्रेन में खड़े होते हैं तो हमारे सभी अंग सक्रिय होते हैं. इसलिए बैठने की तुलना में खड़े रहने की स्थिति में कैलोरी ज्यादा कम होती है.”

खड़े रहने के अतिरिक्त आप कार्यालय में थोड़ा पैदल भी चल सकते हैं जिससे और भी ज्यादा कैलोरी कम होगी, क्योंकि मेट्रो में चलना मुमकिन नहीं है.

तो खड़े रहने से कैलोरी कैसे कम होती है.

अमरीकन काउंसिल की एक रिपोर्ट के अनुसार -चुपचाप खड़ा 68 किलो का व्यक्ति एक घंटे में 114 कैलोरी कम कर सकता है या आठ घंटे में 912 कैलोरी.

वहीं सिंघल का कहना है, “मैं सुझाव दूंगा कि खड़े रहने की क्षमता धीरे-धीरे वक्त के साथ आती है और अंत में चार घंटे तक खड़े रहने की क्षमता आपके स्वास्थ्य को लाभ देगी.”

लेकिन सबसे पहले खड़े रहने के सही तरीके को सीखना जरूरी है.

सिंघल ने सुझाव दिया, “जब आप खड़े होते हैं तो अपने कंधे और पीठ को आराम दें, अपने सिर को सीधा रखें अपने सीने को बाहर रखने की कोशिश करें और पेट को अंदर, सीधे और सही से खड़े हों.”

नई दिल्ली के मैक्स सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल की रीतिका समाद्दार का कहना है, “हमेशा से यह सुझाव दिया गया कि बैठे रहने से अधिक खड़े रहने की तुलना में कैलोरी कम होती है.”

समाद्दार ने कहा, “चलने की क्षमता में थोड़े बदलाव की आवश्यकता है, इसमें आप अपने स्मार्टफोन पर बात करते हुए चल सकते हैं और फोन पर बातचीत के दौरान अपने हाथ हिलाकर बात कर सकते हैं.”

उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि थोड़े से बदलाव में अगर आप अपनी सीट से हर आधे घंटे में उठते हैं और अपने पैरों पर खड़े होते हैं तो इससे आप और अधिक स्वस्थ रहेंगे और इससे आपका वजन भी कम होगा. इसके साथ ही आप स्वस्थ भोजन करें.

इन सबके साथ आपको कुछ बातें ध्यान रखने की भी जरूरत है.

लंबे समय तक एक ही स्थिति में खड़े रहना या बैठना हानिकारक है. दरअसल, मांसपेशियों के तनाव के बाद थोड़े आराम की जरूरत होती है..काफी लंबे समय तक खड़े रहना आपको आराम नहीं देगा और इससे पैरों में दर्द भी शुरू हो जाएगा.

इसके लिए सिंगल का कहना है कि इससे आपके घुटनों के जोड़ पर प्रभाव पड़ता है.

कोलंबिया एशिया अस्पताल-गाजियाबाद के चिकित्सक डॉ. दीपक वर्मा ने सलाह दी है, “लंबे समय तक खड़े रहना पैरों के दर्द का कारण बनता है और इससे सूजन भी होती है और यह हमारी रीढ़ को भी प्रभावित करता है. ऐसे में हमें लंबे समय तक खड़े रहने से बचना चाहिए.”

वर्मा का कहना है, “15 मिनट से अधिक एक ही स्थिति में खड़े या बैठे ना रहें.”

कार्यलय से मेट्रो तक जब भी आपको मौका मिलता है तो बैठने को कहें अलविदा और खड़े हो जाएं. बस इसे ज्यादा समय तक न करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!