बारिश से जलमग्न चेन्नई

चेन्नई | समाचार डेस्क: चेन्नई में बुधवार की बारिश ने पहले ही से बिगड़े बाढ़ के हालात को और बिगाड़ दिया. शहर के निचले इलाकों में हजारों लोगों के सामने बारिश ने जान-माल का खतरा पैदा कर दिया है.

शहर में राहत और बचाव के काम में सेना को लगाया गया है. बुधवार अपरान्ह तक सैनिकों ने 65 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया. अधिकारियों ने बताया कि और अधिक सैनिकों को बेंगलुरु से चेन्नई भेजा जा रहा है.

दिल्ली में केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि चेन्नई में जैसे हालात हैं वैसे कभी सुनने में नहीं आए. यह अप्रत्याशित है. उन्होंने केंद्र सरकार की तरफ से सभी मदद का भरोसा दिलाया.

बारिश की वजह से चेन्नई के कई इलाकों में बिजली और मोबाइल फोन सेवाएं उपलब्ध नहीं हैं.

शहर में स्कूल और कॉलेज 15 दिन के लिए बंद कर दिए गए हैं.

भारी बारिश की वजह से हवाईअड्डा गुरुवार तक के लिए बंद कर दिया गया है. रनवे पर जलभराव की वजह से उड़ानें शुरू नहीं की जा सकीं हैं.

बहुत से यात्री हवाईअड्डे, रेलवे स्टेशन और बस स्टेशनों पर फंसे हुए हैं. अधिकांश बसें सड़क पर नहीं हैं. ट्रैक पर पानी आने की वजह से उपनगरीय रेलगाड़ियां रद्द कर दी गई हैं.

आटो रिक्शा और टैक्सी वाले मौके का फायदा उठा रहे हैं. सवारियों से मनमाना किराया वसूला जा रहा है. बताया गया है कि हवाई अड्डे से अन्ना सलाई स्थित एक होटल तक तीन लोगों को पहुंचाने के लिए टैक्सी वाले ने 4,500 रुपये वसूल लिए.

बारिश का कहर मंगलवार रात से जारी है. लोगों ने इस डर से जगकर रात काटी की कहीं जलस्तर खतरनाक हद तक न बढ़ जाए.

इस बार शास्त्री नगर, अन्ना नगर, अलवरपेट और मइलापोरा जैसे ‘पॉश’ इलाके भी बाढ़ से अछूते नहीं हैं. इससे पहले कभी ऐसा नहीं हुआ.

अडयार नदी के किनारे बनी झोपड़ियां पानी में डूब चुकी हैं. सैदपेट में अडयार पुल को सुरक्षा की वजह से बंद कर दिया गया है.

समाचार पत्र द हिंदू और बिजनेस स्टैंडर्ड बुधवार को प्रकाशित नहीं हो सके. कई निजी और सरकारी संस्थाएं भी बंद रहीं.

चेन्नई के समुद्र तट पर लोगों को जाने से रोक दिया गया है.

इस माहौल में भी कुछ लोग शादी कर रहे हैं.

दक्षिण चेन्नई स्थित एवीएम राजेश्वरी कल्याण मंडपम के प्रबंधक के.एम.कन्नन ने कहा, “आज का दिन विवाह के लिए शुभ है. हमारे मंडप में एक विवाह पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक हुआ.”

शहर के बीचोंबीच स्थित वेस्ट माम्बलम की निवासी रेवती वासन ने कहा, “बारिश का पानी हमारे अपार्टमेंट में घुस आया और हमें इस वजह से प्रथम मंजिल पर अपने पड़ोसी के घर में शिफ्ट करना पड़ा.”

उपनगरीय इलाकों में पानी का स्तर बढ़ने से हालत और भी ज्यादा खराब हैं.

ऊंचाई वाले इलाकों में रह रहे लोग बारिश से प्रभावित लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं. कई लोगों ने कहा कि लोगों ने अपने घरों में अजनबियों को टिकाया है. सिनेमा हाल और माल भी लोगों की मदद के लिए आगे आए हैं और इन्होंने अपने दरवाजे लोगों के लिए खोल दिए हैं.

एक होटल के अधिकारी ने कहा, “हमारे होटल में जलभराव की समस्या से जूझ रहे कई परिवार आकर रह रहे हैं.”

हाल के दिनों में राज्य में पिछले 100 वर्षो में सर्वाधिक बारिश दर्ज की गई है. राज्य की मुख्यमंत्री जे. जयललिता ने मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत के दौरान कहा कि भारी बारिश की वजह से तमिलनाडु के उत्तरी जिले-चेन्नई, तिरूवल्लुर, कांचीपुरम व कडलूर जलमग्न हैं.

कुछ दिन पहले की मूसलाधार बारिश में राज्य में 180 लोगों की मौत हो गई थी.

मौसम विभाग ने अगले तीन दिनों में भारी बारिश की आशंका जताई है.

द्रमुक की राज्यसभा सांसद कनिमोझी करुणानिधि ने केंद्र सरकार से चेन्नई की बाढ़ को राष्ट्रीय आपदा घोषित करने का आग्रह किया है.

अभिनेता रजनीकांत ने तमिलनाडु को मदद के तौर पर 10 लाख रुपये दिए हैं. रजनीकांत के अभिनेता दामाद धनुष ने भी पांच लाख रुपये दान के तौर पर दिए हैं. अभिनेता सूर्या और उनके भाई कार्ति ने 25 लाख रुपये की सहायता राशि दी है, जबकि अभिनेता विशाल कृष्णा रेड्डी ने 10 लाख रुपये दान किए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *