रक्तचाप की दवा लेने वाले सावधान

हेलसिंकी | एजेंसी : उच्च रक्तचाप के ऐसे रोगी जो रक्तचाप की दवा का नियमित सेवन नहीं करते, उनमें दवा का नियमित सेवन करने
वाले की तुलना में स्ट्रोक और उससे मरने का खतरा अधिक रहता है. 73,527 रक्तचाप के रोगियों पर किए गए एक अध्ययन में यह बात सामने आई है.
अध्ययन रिपोर्ट बुधवार को यूरोपीयन हर्ट जर्नल में ऑनलाइन प्रकाशित हुई.

अध्ययन के मुताबिक ऐसे उच्च रक्तचाप रोगी जो दवा की सलाह दिए जाने के बाद भी दवा का सेवन नहीं करते, उनमें दवा का नियमित सेवन करने वालों की तुलना में दूसरे वर्ष में मरने की सम्भावना चार गुणा अधिक और दसवें वर्ष में मरने की सम्भावना तीन गुणा अधिक हो जाती है.


डॉ. किम्मो हर्टुआ ने कहा, “इस निष्कर्ष से प्राणघातक और गैरप्राणघात किस्म के स्ट्रोक जैसे गम्भीर परिणामों के जोखिमों को कम से कम करने के लिए उच्च रक्तचाप की दवाओं के ठीक प्रकार से लेने के महत्व का पता चलता है.”

प्रमुख शोधार्थी हर्टुआ, फिनलैंड के हेलसिंकी विश्वविद्यालय में जनसंख्या शोध इकाई में वरिष्ठ फेलो हैं. इस शोध में फिनलैंड और ब्रिटेन के युनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के वैज्ञानिक शामिल थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!