ध्यानचंद को ‘भारत रत्न’ देने की सिफारिश

नई दिल्ली | एजेंसी: हाकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद को इस बार भारत रत्न मिल सकता है. गौरतलब है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मंगलवार को तीन बार के ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता मेजर ध्यानचंद को मरणोपरांत देश के सर्वोच्च नागरिक अलंकरण ‘भारत रत्न’ से नवाजने की सिफारिश की है. गृह राज्य मंत्री किरेन रिजिजू ने लोकसभा को मंगलवार को यह जानकारी दी कि उनके मंत्रालय ने ध्यानचंद के नाम की सिफारिश भारत रत्न के लिए कर दी है.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्य मंत्री जीतेंद्र सिंह और संसदीय कार्य मंत्री एम. वैंकैया नायडू ने इस सम्बंध में किसी भी प्रकार की चर्चा से इंकार किया है.

29 अगस्त, 1905 में जन्में ध्यानचंद ने 1928 से 1936 के बीच तीन ओलम्पिक खेलों में देश को स्वर्ण पदक दिलाया था. गेंद पर अद्भुत नियंत्रण के लिए उन्हें दुनिया भर में हाकी के जादूगर के नाम से जाना जाता है.

उनके जन्म दिवस को ‘राष्ट्रीय खेल दिवस’ के रूप में मनाया जाता है और इसी दिन राष्ट्रपति देश के शीर्ष खेल पुरस्कारों-राजीव गांधी खेल रत्न, अर्जुन पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कार से खिलाड़ियों को नवाजते हैं.

बीते साल भी खेल मंत्रालय ने भारत रत्ने के लिए ध्यानचंद के नाम की सिफारिश की थी लेकिन प्रधानमंत्री कार्यालय ने क्रिकेट के महानायक सचिन तेंदुलकर को इसके लिए चुना था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *