उरुग्वे करेगा फीफा के सौंवे साल की मेजबानी

लंदन | एजेंसी: उरुग्वे के राष्ट्रपति जोस मुजिका के फीफा की आलोचना किए जाने के बावजूद फीफा विश्व कप-2030 की मेजबानी उरुग्वे को मिलने की प्रबल संभावना है. समाचार पत्र ‘डेली मेल’ के अनुसार फीफा विश्व कप-2018 की मेजबानी रूस को तथा 2022 के विश्व कप की मेजबानी कतर को मिल चुकी है. वहीं, 2026 फीफा विश्व कप अमेरिका में होना तय हो चुका है.

उल्लेखनीय है सुआरेज पर लगे प्रतिबंध के बाद फीफा के लिए मुजिका ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था, जिसके कारण उरुग्वे फुटबाल संघ और फीफा में तनातनी अब भी बनी हुई है.


33 लाख की छोटी सी आबादी वाला देश उरुग्वे फुटबाल जगत में उसने अच्छी साख बनाई है. हालांकि माना जा रहा है कि फीफा उरुग्वे के साथ अर्जेटीना को भी सह-आयोजक बनाना चाहता है.

गौरतलब है कि 2030 में फीफा विश्व कप के 100 साल पूरे हो जाएंगे.

वेबसाइट ‘ईएसपीएन’ ने अर्जेटीना के रेडियो चैनल ‘रेडियो-10’ के हवाले से बताया है कि अर्जेटीना फुटबाल संघ के अध्यक्ष जुलियो ग्रोंडोना ने इस बाबत कुछ जानकारी दी है. जुलियो फीफा के सीनियर उपाध्यक्ष भी हैं.

जुलियो ने कहा है, “फीफा फुटबाल विश्व कप के 100 वर्ष पूरे होने का जश्न अर्जेटीना और उरुग्वे में मनाना चाहता है. मैं इसकी पुष्टि करता हूं. इस बारे में एफए और एयूएफ के बीच समझौता हुआ है.”

इससे पहले 2002 में पहली बार दो देशों जापान और दक्षिण कोरिया ने साथ मिलकर विश्व कप का आयोजन किया था.

दिलचस्प बात यह है कि उरुग्वे की राजधानी मोंटेवीडियो में ही 1930 में पहला फुटबाल विश्व कप आयोजित हुआ था. फाइनल में तब उरुग्वे ने अर्जेटीना को हराकर विश्व कप जीता था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!