@srbachchan ‘मैं अहंकारी नहीं’

दुबई | मनोरंजन डेस्क: बालीवुड के शीर्ष पर पहुंचकर भी अमिताभ बच्चन अहंकार नाम के शब्द से दूर रहते हैं. बालीवुड के महानायक, ‘बिग बी’ न जाने क्या-क्य़ा कहे जाने वाले अमिताभ बच्चन अपने-आप को एक साधारण इंसान मानते हैं. उनका कहना है कि अभिनय वे अपने जीविकोपार्जन के लिये कर रहें हैं. इतना ही नहीं अमिताभ कहते हैं कि अभिनय के पेशे में अहंकार के लिये कोई स्थान नहीं है. महानायक अमिताभ बच्चन का मानना है कि अभिनय के पेशे में कोई अहंकार नहीं होता. 72 वर्षीय अमिताभ ने यहां ‘शमिताभ’ के प्रचार के बाद अपने आधिकारिक ब्लॉग ‘एसआरबच्चन डॉट टंब्लर डॉट कॉम’ पर अपने विचार रखे. ‘शमिताभ’ की कहानी दो व्यक्तियों के इर्दगिर्द घूमती है, जो एक मकसद के लिए साथ तो होते हैं, लेकिन अपने अहंकार की वजह से अलग-थलग रहते हैं.

अमिताभ ने ब्लाग पर लिखा, “नहीं, हमारे पेशे में अहंकार नहीं है. मैं औरों की नहीं जानता, लेकिन कम से कम मैं तो अहंकारी नहीं हूं. मुझे अहंकार, आत्म-निष्ठा, आत्म दंभ शब्द समझ नहीं आते..मैं बाकी सभी की तरह ही एक साधारण इंसान हूं. जीविकोपार्जन के लिए बस कुछ अलग काम कर रहा हूं. मेरे लिए अहंकार का अस्तित्व नहीं है.” अमिताभ ने अपने बलॉग में लिखा है, Errmm … Ma’am … and they are mostly ladies .. NO .. we do not have conditions of ego in our profession, at least I do not, I do not know of the others. I cannot understand ego – self importance, self conceit – I do not have importance, or any indication of my conceit, whatever that word means. I am but an ordinary individual much like all, just doing another job to earn a living, ego does not exist for me, it would mean that I think of myself as having acquired some degree of high relevance, some pinnacled achievement ..


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!