फोर्ब्स की सूची में 19 भारतीय कंपनियां

वाशिंगटन | एजेंसी: व्यापार पत्रिका फोर्ब्स की 200 शीर्ष लघु एवं मध्यम श्रेणी की एशियाई कंपनियों की ‘एक अरब से नीचे सर्वोत्तम’ सूची में 19 भारतीय कंपनियों ने जगह बनाईं, जबकि चीन की 63 कंपनियों ने जगह बनाई.

इस सूची में एशिया प्रशांत क्षेत्र की लघु एवं मध्यम श्रेणी की उन कंपनियों को जगह दी गई है जिनकी सालाना आय 50 लाख डॉलर से एक अरब डॉलर के बीच है और जो शेयर बाजारों में सूचीबद्ध हैं.


एक बयान के मुताबिक फोर्ब्स के संपादकों ने 15 हजार कंपनियों में से 200 सर्वोत्तम कंपनियों की सूची तैयार की. कंपनियों का चुनाव निरंतर बेहतर हो रहे वित्तीय प्रदर्शन, ठीक-ठाक कर्ज स्तर और लाभ कमाने की क्षमता के आधार पर किया गया.

सूची में चीन और हांगकांग की सबसे अधिक 63 कंपनियों, ताइवान की दूसरी सर्वाधिक 26 कंपनियों, भारत की तीसरी सबसे अधिक 19 कंपनियों को जगह दी गई. 2007 के बाद सूची में भारत की सबसे कम कंपनियों को जगह मिल पाई है. जापान की 17 कंपनियों ने सूची में जगह बनाई.

सूची में शामिल भारतीय कंपनियों में सबसे ऊपर विकास डब्ल्यूएसपी (52.5 करोड़ डॉलर की सालाना बिक्री), दूसरे स्थान पर माइंडट्री (बिक्री 43.5 करोड़ डॉलर), तीसरे स्थान पर केपीआईटी क्यूमिंस इंफोसिस्टम्स (41.2 करोड़ डॉलर) है.

इसके बाद अगले दो स्थानों पर क्रमश: एनआईआईटी टेक्नोलॉजीज (37.2 करोड़ डॉलर) और हेक्सावेयर टेक्नोलॉजीज (35.6 करोड़ डॉलर) है.

सूची में शामिल अन्य कंपनियों में हैं एसिल्या काले सोल्यूशंस, अजंता फार्मा, धानुका एग्रीटेक, इरोज इंटरनेशनल मीडिया, इनफाइनाइट कंप्यूटर सोल्यूशंस, जुबिलैंट फूडवर्क्‍स, ला ओपाला आर जी, एमटी एडूकेयर, नाटको फार्मा, पर्सिस्टेंट सिस्टम्स, आरएस सॉफ्टवेयर, सोम डिस्टिलरीज एंड ब्रुअरीज, टीटीके प्रेस्टिज और तालवलकर्स बेटर वैल्यूज फिटनेस.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!