भारत सरकार के लिये दाऊद लापता!

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: केन्द्र सरकार ने संसद में बयान दिया है कि दाऊद इब्राहिम लापता है. केन्द्र सरकार ने संसद में कहा कि उनके पास दाऊद के ठिकाने की जानकारी नहीं है. जानकारी होने पर दाऊद के प्रत्यार्पण के लिये कोशिश की जायेगी. उल्लेखनीय है कि दाऊद के बारे में कहा जाता है कि वह पाकिस्तान में आईएसआई के सुरक्षा घेरे में रहता है. केंद्र सरकार ने मंगलवार को संसद में कहा कि 1993 के मुंबई बम विस्फोट के आरोपी अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम इस वक्त कहां है, यह सरकार को नहीं पता और जैसे ही इसका पता चलेगा उसके प्रत्यार्पण की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हरिभाई पारथीभाई चौधरी ने लोकसभा में एक लिखित जवाब में कहा कि दाऊद साल 1993 में मुंबई सीरियल बम विस्फोट मामले में आरोपी है और उसके खिलाफ एक रेड कॉर्नर नोटिस लंबित है.

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने भी उसके खिलाफ एक विशेष नोटिस जारी किया है.


मंत्री ने कहा, “उसके ठिकाने का अभी तक पता नहीं चल पाया है. जैसे ही उसके ठिकाने का पता चलेगा प्रत्यर्पण की कार्रवाई शुरू कर दी जाएगी.”

चौधरी ने कहा कि सरकार ने आतंकवाद के मामले में भगोड़ों के शीघ्र प्रत्यर्पण के संबंध में विभिन्न देशों से अनुरोध किया है. इनमें थाईलैंड से विली नरूएनआर्टवानिक, सऊदी अरब से उस्मानी गनी खान, संयुक्त अरब अमीरात से अब्दुल वाहिद सिद्दिबापा, ब्रिटेन से वेलू उर्फ बूपालन उर्फ दिलीपन उर्फ निरंजना तथा मोहम्मद हनीफ टाइगर उर्फ मोहम्मद हनीफ उमरजी पटेल के प्रत्यर्पण के लिए अनुरोध किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!