आईएम का नया हथियार जहरीली चिट्ठी

नई दिल्ली | एजेंसी: आतंकवादियों ने बम के अलावा भी लोगों को मारने के लिये जहर की तकनीक का उपयोग करने की योजना बनाई थी. इसका खुलासा दिल्ली पुलिस ने किया है.

इंडियन मुजाहिदीन के संदिग्ध आतंकवादियों ने लक्षित लोगों को हत्या के लिए जहर भरी चिट्ठी भेजने की योजना बनाई थी. आतंकवादियों द्वारा अवैध हथियार फैक्ट्री चलाने के मामले में दिल्ली पुलिस द्वारा दाखिल किए गए आरोप पत्र में यह बात सामने आई है. पुलिस ने आठ अगस्त को आईएम के आतंकवादियों तहसीन अख्तर, जिया-उर-रहमान उर्फ वकास और तीन अन्य मोहम्मद मारूफ, वकार अजहर और मोहम्मद साकिब अंसारी के खिलाफ कथित तौर पर अवैध हथियार फैक्ट्री स्थापित करने के मामले में आरोप पत्र दाखिल किया था.


आरोप पत्र के मुताबिक, “पूछताछ के दौरान आरोपी वकार और तहसीन ने खुलासा किया कि उन्होंने उपलब्ध रसायनों जैसे मैग्नीशियम सल्फेट, एसीटोन और अरंडी के बीज से जहर बनाने का प्रयास किया. उनका इरादा जहर बनाकर उसमें चिट्ठी को डुबोकर उसे लक्षित लोगों को भेजकर उन्हें मारने का था.”

नवंबर 2011 में दिल्ली पुलिस की विशेल शाखा ने नांगलोई इलाके में एक अवैध हथियार फैक्ट्री का भंडाफोड़ कर आईएम के कई संदिग्ध आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था.

तहसीन को 25 मार्च को भारत-नेपाल सीमा के पास पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले से गिरफ्तार किया गया था, जबकि वकास को 22 मार्च को अजमेर रेलवे स्टेशन के बाहर गिरफ्तार किया गया था.

इससे पहले पुलिस आईएम प्रमुख यासीन भटकल और उसके सहयोगी असदुल्ला अख्तर समेत कई अन्य के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!