ग्रैमी अवॉर्डस में My India

लॉस एंजेलिस | मनोरंजन डेस्क: संगीतकार विशाल ददलानी ने कहा कि भारतीय संगीतकार रिकी केज का ग्रैमी जीतना भारत के लिए गर्व की बात है. ददलानी ने अपने साथी शेखर रावजियानी के साथ मिलकर ‘तू मेरी’ और ‘देसी गर्ल’ जैसे गानों की धुन बनाई है. उन्होंने माइक्रो ब्लागिंग वेबसाइट ट्विटर पर अपने विचार साझा किए. ददलानी ने लिखा, “बेंगलुरू के संगीतकार रिकी केज को उनके एल्बम ‘विंड्स ऑफ समसारा’ के लिए बेस्ट न्यू एज एल्बम का ग्रैमी अवॉर्ड मिला है. भारत को उन पर गर्व है.”भारतवंशी संगीतकार रिकी केज और नीला वास्वानी ने यहां 57वें एनुअल ग्रैमी अवार्ड्स में पुरस्कार हासिल किए. न्यूयार्क में रहने वाली वास्वानी को बेस्ट चिल्ड्रेंस एल्बम श्रेणी में पुस्कृत किया गया. उन्होंने पाकिस्तानी सामाजिक कार्यकर्ता नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला युसुफजई की किताब ‘आई एम मलाला : हाउ वन गर्ल स्टुड अप फॉर एज्युकेशन एंड चेंज्ड द वर्ल्ड’ का संगीत रूपांतरण किया था.

उनके संगीत में मलाला की बहादुरी, चरमपंथ के बीच दृढ़ता की कहानी आतंकवाद के खतरे के बीच हर दिन की चुनौतियों का जिक्र है.


वहीं, बेंगलुरू के रहने वाले केज के एल्बम ‘विंड्स ऑफ समसारा’ को बेस्ट न्यू एज एल्बम अवॉर्ड दिया गया. केज ने दक्षिणी अफ्रीकी संगीतकार वाउटर केलरमैन के साथ काम किया है. यह एलबम शांति व सद्भाव का प्रतीक है.

एलबम की वेबसाइट ने इसे ‘सच्चा वैश्विक प्रयास’ बताया, जो दो संस्कृतियों से प्रेरणा लेती है.

बेस्ट न्यू ऐज एलबम श्रेणी में ‘भक्ति’, ‘रिचुअल’, ‘सिंफ्नी लाइव इन इस्तांबुल’ और ‘इन लव एंड लान्गिंग’ नामांकित हुई थी.

भारतीय सितारवादक अनुष्का शंकर इस बार ग्रैमी पाने से चूक गईं. सितार सम्राट रवि शंकर की पुत्री अनुष्का को उनके एल्बम ‘ट्रेसेज ऑफ यू’ के लिए बेस्ट वर्ल्ड म्यूजिक एल्बम श्रेणी में नामांकित किया गया था. इस श्रेझी में पुरस्कार एंजेलीक किडजो को उनके एल्बम ‘ईव’ के लिए दिया गया.

इस साल ग्रैमी अवॉर्डस में सैम स्मिथ और फेरेल विलियम्स का जलवा रहा. समारोह में कई गायन क्षेत्र की नामचीन हस्तियों ने प्रस्तुति भी दी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!