भारत में रहने वाले हिन्दू: डिसूजा

पणजी | समाचार डेस्क: हिन्दू राष्ट्र के मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी की मुश्किले उनके ही सहयोगी बढ़ा रहें है. इस कारण से गोवा के उपमुख्यमंत्री फ्रांसिस डिसूजा को कहना पड़ा कि “भारत पहले से ही हिंदू राष्ट्र है और यहां रहने वाले सभी लोग हिंदू हैं.” फ्रांसिस डिसूजा ने संवाददाताओं से कहा, “यह हमेशा से हिंदू राष्ट्र था और हमेशा हिंदू राष्ट्र रहेगा. आपको हिंदू राष्ट्र बनाने की जरूरत नहीं है.”

गौरतलब है कि इससे पहले गोवा के ही मंत्री दीपक धवलीकर ने टिप्पणी की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि मोदी देश को हिंदू राष्ट्र बना सकते हैं. धवलीकर ने गुरुवार को नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने पर बधाई प्रस्ताव के दौरान अपनी टिप्पणी के जरिए देश में एक विवाद को हवा दी थी. धवलीकर ने कहा था कि यदि हम इसका समर्थन करें और मोदी के साथ खड़े रहें, तो मुझे लगता है कि हिंदू राष्ट्र स्थापित हो जाएगा.

धवलीकर की टिप्पणी से उठे विवादों को ठंडा करने के लिये डिसूजा को कहना पड़ा कि भारत पहले से ही हिन्दू राष्ट्र है परन्तु इससे भी एक अलग विवाद उठने की संभावना है. डिसूजा, भारतीय जनता पार्टी की गोवा इकाई में एक वरिष्ठतम अल्पसंख्यक सदस्य हैं. उन्होंने कहा कि वह खुद को एक ‘क्रिश्चियन हिंदू’ मानते हैं. डिसूजा ने कहा, “भारत हिंदू राष्ट्र है. यह हिंदुस्तान है. हिंदुस्तान में सभी भारतीय हिंदू हैं. मैं एक क्रिश्चियन हिंदू हूं.”

उधर, विपक्षी कांग्रेस ने एक निर्दलीय विधायक सहित शुक्रवार को विधानसभा से बहिर्गमन किया. मंत्री दीपक धवलीकर ने कहा था कि यदि सब लोग प्रधानमंत्री मोदी का समर्थन करें, तो भारत एक हिंदू राष्ट्र बन जाएगा. विधानसभा में जैसे ही प्रश्नकाल शुरू हुआ, विपक्ष के नेता प्रताप सिंह राणे ने सहकारिता मंत्री दीपक धवलीकर से मांग की कि वह गुरुवार को सदन में की गई अपनी विवादास्पद टिप्पणी पर स्पष्टीकरण दें.

राणे ने कहा, “उन्होंने संविधान की शपथ ली है, जिसकी प्रस्तावना में ही धर्मनिरपेक्ष समाजवादी लोकतांत्रिक गणराज्य के सिद्धांतों की बात की गई है. फिर वह कैसे कह सकते हैं कि मोदी भारत को हिंदू राष्ट्र बनाएंगे?”

जब अध्यक्ष ने कहा कि इस मुद्दे को प्रश्नकाल के बाद उठाया जा सकता है, तो राणे कांग्रेस विधायकों व एक निर्दलीय विधायक विजय सरदेसाई के साथ सदन से बहिर्गमन कर गए.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *