आईएनएस विक्रमादित्य को राष्ट्र को समर्पित

नई दिल्ली | एजेंसी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को आईएनएस विक्रमादित्य को राष्ट्र को समर्पित कर दिया. आईएनएस विक्रमादित्य सबसे बड़ा और अत्यंत शक्तिशाली विमान वाहक पोत है. इस मौके पर मोदी ने कहा, “यह राष्ट्र के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण दिवस है.”

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक ट्विट में कहा है कि इस अवसर पर मोदी ने कहा, “हमें नवीनतम प्रौद्योगिकी को उच्च प्राथमिकता देने की जरूरत है. इससे राष्ट्र को मदद मिलेगी.”

उन्होंने जोर दिया कि भारत को निश्चितरूप से आत्मनिर्भर होना चाहिए और रक्षा उपकरणों का विनिर्माण करना चाहिए.

मोदी ने ट्विट किया है, “आखिर क्यों हम रक्षा उपकरणों का आयात करें? हमें आत्मनिर्भर होना चाहिए. आखिर हम क्यों नहीं अपने रक्षा उपकरण दूसरे देशों को बेचें?”

आईएनएस विक्रमादित्य पर सवारी करने के दौरान मोदी एक मिग-29 लड़ाकू विमान के कॉकपिट में भी गए.

गौरतलब है कि रूस निर्मित 44,500 टन वजनी आईएनएस विक्रमादित्य भारतीय नौसेना की नवीनतम खरीदी में से एक है और यह इसकी सैन्य शक्ति का अत्यंत शक्तिशाली प्रतीक है. पूर्व रक्षा मंत्री ए. के. एंटनी ने पिछले नवंबर में रूस के सेवमाश गोदी में पोत का जलावतरण किया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *