फैसला सरकार के बजाये जनता ले: अनुष्का

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: ‘इंडियाज डॉटर’ पर पाबंदी का एनडीटीवी ने अनोखे ढ़ंग से विरोध किया वहीं अनुष्का शर्मा का मानना है कि इसे देखने का फैसला लोगों के विवेक पर छोड़ा जाना चाहिये. उल्लेखनीय है कि बीबीसी का वृत्तचित्र ‘इंडियाज डॉटर’ को भारत में बैन कर दिया गया है जिसके विरोध में एनडीटीवी ने एक घंटे तक अंधेरे में दिया जलता हुआ दिखाया जिसे लोगों ने पसंद किया. अब अनुष्का शर्मा इस वित्तचित्र को बैन किये जाने के खिलाफ मुखर हो गई है. अनुष्का का कहना है कि लोगों में इतनी समझदारी है कि उन्हें कौन सी चीज देखनी है. भारत में 16 दिसंबर, 2012 की सामूहिक दुष्कर्म पर आधारित ब्रिटिश फिल्म निर्देशक लेस्ली उडविन के वृत्तचित्र ‘इंडियाज डॉटर’ के प्रसारण पर रोक लगाने के फैसले पर लोगों की अलग-अलग राय है.

अभिनेत्री अनुष्का शर्मा का मानना है कि लोगों को मालूम है कि उन्हें क्या देखना है, इसलिए हर तरह के प्रतिबंध खत्म होने चाहिए. अनुष्का अपनी आगामी फिल्म ‘एनएच10’ के प्रचार के लिए देश की राजधानी दिल्ली में मौजूद थीं.

उन्होंने संवाददाताओं को बताया, “मैंने वृत्तचित्र इंडियाज डॉटर नहीं देखा है. मैं उन चीजों पर टिप्पणी नहीं कर सकती, जिस बारे में लोग बातें कर रहे हैं. लेकिन मैं फिल्मोद्योग के प्रतिनिधि के रूप में आपसे यह खुलकर कह सकती हूं कि आपको यह जनता के विवेक पर छोड़ देना चाहिए.”

अनुष्का ने कहा, “लोगों में इतनी समझ है कि वह अपने फैसले खुद ले सकें..मेरा मानना है कि लोगों को खुद फैसला करने दें.”

नवदीप सिंह निर्देशित ‘एनएच10’ 13 मार्च को रिलीज हो रही है. इससे अनुष्का फिल्म निर्माण के क्षेत्र में कदम रख रही हैं. कुल मिलाकर अनुष्का ‘इंडियाज डॉटर’ पर से पाबंदी हटा लेने के पक्ष में है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *