IPL-8: डेयरडेविल्स की सांत्वना जीत

रायपुर | एजेंसी: दिल्ली डेयरडेविल्स ने आखिरकार मंगलवार को जीत का स्वाद चख ही लिया, हालांकि यह जीत भी उन्हें अब टूर्नामेंट में आगे नहीं ले जा पाएगी. डेयरडेविल्स ने शहीद वीर नारायण सिंह अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में हुए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आठवें संस्करण के 49वें मैच में चेन्नई सुपर किंग्स को छह विकेट से हरा दिया.

डेयरडेविल्स के गेंदबाजों ने मैन ऑफ द मैच रहे जहीर खान (9/2) की अगुवाई में बेहद कसी हुई गेंदबाजी करते हुए पहले सुपर किंग्स 119 रनों पर रोक दिया उसके बाद श्रेयष अय्यर (नाबाद 70) की आतिशी पारी तथा युवराज सिंह (32) के साथ तीसरे विकेट के लिए निभाई गई 69 रनों की साझेदारी की बदौलत 20 गेंद शेष रहते चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया.

इस जीत का हालांकि डेयरडेविल्स या सुपर किंग्स पर कोई खास असर नहीं पड़ा. सुपर किंग्स अभी भी जहां 13 मैचों से 16 अंक हासिल कर शीर्ष पर बने हुए हैं, वहीं डेयरडेविल्स 13 मैचों से 10 अंक हासिल कर सातवें पायदान पर जमे हुए हैं.

ईश्वर पांडेय ने क्विंटन डी कॉक (3) और जेपी ड्यूमिनी (6) के रूप में सुपर किंग्स को शुरुआती सफलता तो दिला दी. लेकिन इसके बाद सुपर किंग्स के गेंदबाज अय्यर और युवराज के आगे बेअसर नजर आए.

पवन नेगी ने युवराज को 93 के कुल योग पर मोहित शर्मा के हाथों कैच आउट करवाया. युवराज ने 28 गेंदों का सामना कर चार चौके और एक छक्का लगाया.

नेगी ने अपने अगले ओवर में एल्बी मोर्कल (8) को भी ईश्वर पांडेय के हाथों लपकवा दिया, हालांकि अय्यर को वह जीत हासिल करने से नहीं रोक पाए.

अय्यर ने 49 गेंदों की अपनी बेहतरीन पारी में 10 चौके और एक छक्का लगाया और अंत तक नाबाद रहे.

इससे पहले, डेयरडेविल्स की ओर से इस मैच में शामिल किए गए तेज गेंदबाज शाबाज नदीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे सुपर किंग्स को अपेक्षित शुरुआत नहीं करने दी और पहला ही ओवर मेडन डाला.

अनुभवी तेज गेंदबाज जहीर खान ने भी कदमताल मिलाते हुए दूसरे ओवर में मात्र एक रन दिए. जहीर ने छठे ओवर में अंतत: बिना कोई रन दिए ब्रेंडन मैक्लम (11) को कप्तान ज्यां पॉल ड्यूमिनी के हाथों कैच करा डेयरडेविल्स को पहली सफलता दिला दी.

सुपर किंग्स पर डेयरडेविल्स के गेंदबाज इतना दबाव बनाने में कामयाब रहे कि सुपर किंग्स पॉवरप्ले में मात्र 16 रन बना सके, जो आईपीएल-8 में सबसे कम तथा आईपीएल के इतिहास में तीसरा सबसे छोटा योग है.

नौवें ओवर में आक्रमण पर बुलाए गए एल्बी मोर्कल ने पहली ही गेंद पर ड्वायन स्मिथ (18) को चलता कर सुपर किंग्स को दूसरा झटका दे दिया. अगले ही ओवर में सुरेश रैना (11) भी जयंत यादव की गेंद पर ड्यूमिनी को कैच थमा चलते बने.

सुपर किंग्स 10 ओवरों के अंदर 46 के योग पर तीन अहम विकेट गंवा चुका था. इसके बाद क्रीज पर फॉफ दू प्लेसिस (29) का साथ देने कप्तान महेंद्र सिंह धौनी (22) उतरे.

धौनी ने प्लेसिस के साथ चौथे विकेट के लिए 37 रनों की साझेदारी निभाकर टीम को संभालने की पूरी कोशिश की, हालांकि इस प्रयास में वे रन को गति नहीं दे सके. प्लेसिस अंतत: 16वें ओवर में 83 के कुल योग पर मोर्कल के हाथों क्लीन बोल्ड हो पवेलियन लौटे.

प्लेसिस ने 23 गेंदों का सामना कर तीन चौके लगाए.

प्लेसिस के जाने के बाद रवींद्र जडेजा या पवन नेगी की जगह तेज गति से रन बनाने के उद्देश्य से ड्वायन ब्रावो (8) मैदान पर उतरे. धौनी ने 17वां ओवर लेकर आए युवराज सिंह की गेंद पर एक चौका और एक छक्के की मदद से 13 रन बटोरे.

ब्रावो ने भी 18वें ओवर की पहली ही गेंद पर छक्का लगाकर अपेक्षित गति से रन बनाना शुरू किया, लेकिन गुरिंदर संधू ने तीसरी गेंद पर ही उन्हें ड्यूमिनी के हाथों लपकवा दिया.

शानदार मैच फिनिशर माने जाने वाली धौनी का जलवा भी आज फीका ही रहा और वह 19वें ओवर की पहली ही गेंद पर जहीर का शिकार हो पवेलियन लौट गए. धौनी ने 24 गेंदों का सामना कर तीन चौके और एक छक्का लगाया.

जहीर खान की अगुवाई में डेयरडेविल्स के गेंदबाजों की कसी हुई गेंदबाजी के आगे सुपर किंग्स की पारी छह विकेट खोकर निर्धारित 20 ओवरों में 119 रनों पर सीमित रह गई.

जहीर ने चार ओवरों में मात्र नौ रन देकर दो विकेट चटकाए. जहीर के अलावा मोर्कल ने भी दो विकेट हासिल किया. संधू और जयंत को एक-एक विकेट मिला.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *