ISIS बेलगाम, केन्जी गोतो हलाल

टोक्यो | समाचार डेस्क: इस्लामिक स्टेट का आतंक बेलगाम होता जा रहा है. इस्लामिक स्टेट द्वारा जारी वीडियो में दूसरे जापानी बंधक केन्जी गोतो का गला कलम करते हुए दिखाया जा रहा है. इससे पहले इस्लामिक स्टेट ने हारुना युकावा की इसीतरह से हत्या का दावा किया था. जाहिर है कि इस्लामिक स्टेट आतंक को फैलाने के लिये तथा अपनी मांगों को मनवाने के लिये पहले बंधक बना लेता है फिर उनकी हत्या कर देता है. इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने एक वीडियो में बंधक बनाए गए दूसरे जापानी नागरिक की हत्या का दावा किया है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ में रविवार को प्रकाशित खबरों से यह जानकारी सामने आई है.

इधर, प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने इसे ‘घृणित आतंकवादी कृत्य’ करार दिया है.


माना जा रहा है कि इस्लामिक स्टेट ने जापानी नागरिक हारुना युकावा की हत्या के कुछ दिन बाद स्वतंत्र पत्रकार और फिल्म निर्माता केन्जी गोतो की गर्दन काट कर हत्या कर दी है. गोतो याकुवा की रिहाई के लिए अक्टूबर में सीरिया गया था.

अबे ने कहा, “यह आक्रोश बिल्कुल अस्वीकार्य है. हम हत्यारों का पता लगाने के लिए अपनी पूरी क्षमता का इस्तेमाल करेंगे और उन्हें न्याय के कटघरे में ला खड़ा करेंगे. हम आतंकवादियों से हार नहीं मानेंगे.”

इस्लामिक स्टेट द्वारा जारी किए गए एक मिनट के वीडियो के अनुसार, एक व्यक्ति नारंगी रंग के जंपशूट में घुटने के बल बैठा हुआ है और चेहरे पर नकाब लगाए काले कपड़े में एक व्यक्ति हाथ में चाकू लिए उसके पास खड़ा है. माना जा रहा है कि घुटने के बल बैठा व्यक्ति गोतो है.

वीडियो में नकाब पहने व्यक्ति ने कहा, “जापान के प्रधानमंत्री अबे के न जीतने वाले युद्ध का हिस्सा बनने का फैसला करने पर यह चाकू न सिर्फ गोतो की हत्या करेगा, बल्कि किसी भी जापानी नागरिक के पाए जाने पर उसकी हत्या की जाएगी.”

वीडियो के आनलाइन प्रकाशित किए जाने के बाद अबे ने संवाददाताओं से कहा कि वह इस घृणित आतंकवादी हमले से काफी गुस्से में हैं और वह आतंकवादियों के सामने कभी नहीं झुकेंगे.

प्रधानमंत्री ने कहा कि जापान अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी के साथ आतंकवाद के खिलाफ अपनी लड़ाई के प्रयास को दोगुना करेगा.

गौरतलब है कि इस्लामिक स्टेट ने जापान से दोनों नागरिकों की रिहाई के लिए 20 करोड़ डॉलर और जार्डन के जेल में बंद इसकी महिला आत्मघाती हमलावर की रिहाई की मांग की थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!