जीसैट-14 प्रक्षेपण जल्द

चेन्नई | एजेंसी:भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन संचार उपग्रह जीसैट-14 की प्रक्षेपण तिथि का फैसला 27 दिसंबर को करेगा. यह जानकारी एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी. उपग्रह को जीएसएलवी रॉकेट से छोड़ा जाएगा. सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के निदेशक एम.वाई.एस. प्रसाद ने आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा से फोन पर आईएएनएस से कहा, “जीएसएलवी को जनवरी में छोड़ा जाएगा. निश्चित तिथि का फैसला 27 दिसंबर को एक बैठक में किया जाएगा.”

इस उपग्रह को 19 अगस्त को प्रक्षेपित किया जाना था, लेकिन उसके कुछ ही घंटे पहले प्रक्षेपणयान के दूसरे चरण के इंजन से तरल ईंधन के रिसाव का पता चलने के बाद प्रक्षेपण कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया.


इस अभियान की खास बात यह है कि रॉकेट के तीसरे चरण के क्रायोजेनिक इंजन का निर्माण और उसकी डिजायनिंग इसरो ने किया है.

क्रायोजेनिक इंजन अपेक्षाकृत अधिक शक्तिशाली होता है.

इस अभियान की सफलता महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह ऐसे रॉकेटों के निर्माण की दिशा में पहला सफल कदम होगा, जो अधिक वजन उठाने यानी, चार टन तक के भार वाले उपग्रह को ले जाने में सक्षम हो.

क्रायोजेनिक इंजन प्रौद्योगिकी में इसरो को विशेषज्ञता हासिल होने से इस पर होने वाली विदेशी पूंजी का खर्च बच जाएगा.

जीसैट-14 इसरो द्वारा निर्मित 23वां भूस्थैतिक उपग्रह है. इसका जीवनकाल 12 साल का होगा. इसका उपयोग टेली-मेडिसीन और टेली-एजुकेशन सेवाओं के लिए होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!