आइटम सांग में खो गये राखी के गाने

रायपुर | संवाददाता: राखी के फिल्मी गाने अब केवल राखी के दिन ही सुनाई पड़ते हैं. पहले तीज-त्यौहारों के अलावा भी इन गानों की मधुर आवाज सुनाई देती थी. वह जमाना अलग था, तब जन्मदिन, शादी, राखी, और होली के गीत फिल्मों के मुख्य आकर्षण हुआ करते थे. आज के जमाने में फिल्मों के रिलीज होने के पहले ही उसके आइटम सांग का प्रचार शुरु हो जाता है. तमाम कवायद बाक्स ऑफिस के नजरिये से होता है.

वैसे तो अब भी राखी के दिन “भैय्या मेरे राखी के बंधन को निभाना…” सुनाई देता है पर शायद ही कोई नये जमाने का लड़का या लड़की इस गीत को कभी गुनगुनाते हैं. अब तो सनी लियोनी के आइटम सांग का जमाना दीवाना है. चलते-चलते स्मार्टफोन पर गाना सुनने का वक्त आ गया है. काम करते-करते भी इन्हें सुना तथा गुनगुनाया जाता है.


यह कहा जा सकता है कि आइटम सांग पहले भी हुआ करते थे परन्तु उनके न तो बोल न तो पोशाक में किसी तरह की फूहड़ता होती थी. अब गाने के बोल तथा कमर के झटके तालियां बटोर ले जाते हैं. ठुमके हेलन तथा जयश्री बहनों ने भी लगाये थे परन्तु सनी लियोनी के समान भाव-भंगिमा पहले नहीं चला करती थी.

फिल्म ‘तीसमारखान’ की “शीला की जवानी……”, सनी लियोनी की फिल्म ‘हेट स्टोरी 2’ का गाना “पिंक लिप्स….”, ‘दबंग’फिल्म का “मुन्नी बदनाम हुई….”, जैसे गाने आते हैं तथा चले जाते हैं. पहले के गाने वर्षो चला करते थे. उनके बोल ऐसे हुआ करते थे कि दिल की गहराई में बस जाते थे जैसे “जीवन से भरी ये आंखें मजबूर करे जीने के लिये….”, “जिंदगी कैसी है पहेली…..”आदि-आदि.

हम बात कर रहे थे राखी के गानों की जिसके बोल दिल की गहराईयों से निकलते थे तथा दिल में बस जाया करते थे. आज के राखी के दिन उन्हें सुनकर आपका भी दिल झूम उठेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!