जेटली की पाकिस्तान को चेतावनी

श्रीनगर | एजेंसी: रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि हमारे जवान सीज फायर उल्लंघन को रोकने में पूरी तरह से सक्षम हैं. गौरतलब है कि पाकिस्तान द्वारा बार-बार सीज फायर का उल्लंघन किया जा रहा है तथा सीमा पार से गोली बारी की जा रही है.

शनिवार को रक्षा मंत्री अरुण जेटली दो दिन के दौरे पर यहां जम्मू एवं कश्मीर पहुंचे. उनके साथ भारतीय थल सेनाध्यक्ष जनरल बिक्रम सिंह भी हैं. रक्षा मंत्री बनने के बाद जेटली का जम्मू एवं कश्मीर का यह पहला दौरा है. सेना के वरिष्ठ अधिकारियों ने श्रीनगर अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी की.


जेटली सेना के हेलीकाप्टर से बादामी बाग स्थित सेना की 15वीं वाहिनी के मुख्यालय के लिए रवाना हुए. वहां वह उत्तरी कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ लेफ्टिनेंट जनरल डी.एस. हूडा और 14वीं, 15वीं और 16वीं वाहनी के कमांडर राज्य के सुरक्षा हालात के बारे में उन्हें जानकारी देंगे.

सूत्रों के मुताबिक, हाल ही में नियंत्रण रेखा और जम्मू एवं कश्मीर की अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा किए गए संघर्ष विराम उल्लंघन का मुद्दा जेटली की समीक्षा का केंद्र रहेगा. जेटली राज्य में भारत और चीन के बीच स्थित वास्तविक सीमा रेखा पर सुरक्षा हालात की भी समीक्षा करेंगे.

जेटली शनिवार को दोपहर बाद राज्य के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला से भी मुलाकात करेंगे. राज्यपाल एन.एन. वोहरा रात को राजभवन में जेटली को भोज देंगे. जेटली रविवार को श्रीनगर में एकीकृत मुख्यालय की बैठक की सहअध्यक्षता भी करने वाले हैं.

एकीकृत मुख्यालय राज्य का शीर्ष सुरक्षा ग्रिड है जिसके प्रमुख राज्य के मुख्यमंत्री होते हैं. इसमें राज्य सरकार, सेना, अर्धसैनिक बलों, राज्य व केंद्रीय खुफिया एजेंसियों और स्थानीय पुलिस के शीर्ष अधिकारी शामिल होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!