मुझ जैसे घायल शेर ज्यादा खतरनाक: जोगी

पेंड्रा | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का कहना है कि उनके जैसा घायल शेर ज्यादा खतरनाक होता है.

जोगी ने एक सभा में छत्तीसगढ़ में अगली सरकार कांग्रेस की बनाने की अपील करते हुए कहा कि प्रदेश के मुखिया रमन सिंह विकास की बातें करते हैं तो मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि वे अपने 10 वर्षो के विकास कार्य बताएं और मैं अपने तीन साल के विकास कार्य गिनाता हूं.

गौरतलब है कि मरवाही विधानसभा से इस बार अजीत जोगी के पुत्र अमित पहली बार चुनावी मैदान में हैं. इस सीट पर सबकी नजर है. खुद पूर्व मुख्यमंत्री की प्रतिष्ठा इस सीट पर दांव पर लगी है.

उन्होंने सभा में इस बात के भी संकेत दे दिए की प्रदेश में कांग्रेस की अगली सरकार का संचालन कोटा विधानसभा क्षेत्र से होगा. उल्लेखनीय है कि कोटा से उनकी पत्नी रेणु जोगी चुनाव मैदान में हैं, सभा में उनके इस वक्तव्य से कांग्रेसी भी हैरान हैं.

इस सभा में जोगी ने यह भी कहा कि राज्य में टिकट वितरण को लेकर उनकी कोई भूमिका नहीं थी. उन्होंने कहा कि समाचार पत्रों में दुर्ग जिले की अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित विधानसभा सीट में मेरे द्वारा नाम प्रस्तावित किए जाने का उल्लेख है.

उन्होंने एक विज्ञप्ति जारी कर कहा, “मैं स्पष्ट करना चाहूंगा कि मेरे द्वारा सम्पूर्ण दुर्ग जिले की किसी भी विधानसभा के लिए कोई भी नाम प्रस्तावित नहीं किया गया था. जोगी का कहना है कि टिकट आवंटन को लेकर वह किसी भी केन्द्रीय समिति में सदस्य नहीं थे. ऐसे में उनकी टिकट वितरण में कोई भूमिका नहीं माननी चाहिए.”

जोगी के स्पष्टीकरण को चौबे से उनकी नाराजगी और गुटबाजी से भी जोड़कर देखा जा रहा है. बहरहाल, प्रदेश में टिकट वितरण को लेकर नाराजगी और नेताओं के बीच अंतर्कलह थमने का नाम नहीं ले रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *