लोकेशन पर ओजस्विता याने जोहरा: चड्ढा

मुंबई | एजेंसी: ब्रिटेन निवासी भारतीय फिल्मकार गुरिदर चड्ढा दिवंगत अभिनेत्री जोहरा सहगल को याद करते हुए कहती है कि “जोहरा का चेहरा कितना भावपूर्ण था! कितना उत्सवधर्मी व्यक्तित्व था..उन्होंने जब मेरे साथ ‘भाजी ऑन द बीच’ और ‘बेंड इट लाइक बेकहम’ पर काम किया तो लोकेशन पर ओजस्विता ले आई.”

गुरिदर स्वीकारती हैं कि उनकी कॉमेडी फिल्म ‘भाजी ऑन द बीच’ जोहरा के बिना संभव नहीं थी. चड्ढा को लगता है कि एक कलाकार के रूप में जोहरा ने उनकी फिल्म को बहुत कुछ दिया.

चड्ढा ने यादों की पोटली को टटोलते हुए कहा, “भाजी ऑन द बीच’ भारतीय नारीत्व का एक बहुत गैर-पारंपरिक पक्ष रखती है. आप जानते हैं, हम एक निश्चित उम्र के बाद भारतीय महिलाओं से मनोरंजन के लिए सक्षम या समर्थ होने की बात नहीं सोच सकते. लेकिन यहां ‘भाजी ऑन द बीच’ में जोहरा और उनके दोस्त वर्जित और चौंकाने वाली चीज कर रहे थे.”

वह कहती हैं कि जोहरा के बिना ‘भाजी ऑन द बीच’ संभव नहीं थी. 102 वर्षीया जोहरा का गुरुवार को हृदयाघात से निधन हो गया.

चड्ढा का कहना है कि जोहरा में गंभीर परिस्थितियों में हास्य ढूंढने की एक असाधारण क्षमता थी.

चड्ढा ने बताया, “उनका चेहरा बेहद गंभीर था, जिस पर अचानक हंसी फूट पड़ती. मुझे याद है कि एक बार मैंने उनके सामने सिगरेट सुलगाई और इसके लिए उनसे माफी मांगी. जोहरा ने मुझे अपने जवाब से चौंका दिया. उन्होंने कहा, “कोई बात नहीं. तुम मुझे मेरे पूर्व प्रेमियों की याद दिलाती हो.”

बढ़ती उम्र कभी जोहरा के जोश को कम नहीं कर पाई.

चड्ढा ने कहा, “जोहरा हमेशा जवां थीं. उन्हें पर्दे पर कॉमेडी करना अच्छा लगता. लेकिन वह इसे जरूरत से ज्यादा करने से शर्मिदा हुईं.”

जोहरा बॉलीवुड में ‘हम दिल दे चुके सनम’ और ‘चीनी कम’ फिल्म में नजर आईं. उनकी अंतिम फिल्म ‘सांवरिया’ थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *