सीबीआई के सवालों का जवाब देंगे: जेएसपीएल

नई दिल्ली | एजेंसी: जिंदल स्टील एंड पॉवर लिमिटेड ने एक बयान में कहा है कि वह वनभूमि के कथित दुरुपयोग पर शुक्रवार को सीबीआई द्वारा दर्ज प्रारंभिक जांच का जवाब देगी. बयान में कहा गया है, “हमें मीडिया रपटों से प्रारंभिक जांच की जानकारी मिली है. जेएसपीएल फिर से कहना चाहती है कि हमने हमेशा जांच एजेंसी को सहयोग दिया है और जब भी हमें सीबीआई से सवाल मिलेंगे हम उसका जवाब देंगे.”

सीबीआई ने शुक्रवार को नवीन जिंदल की कंपनी जेएसपीएल और वन एवं पर्यावरण मंत्रालय के कुछ अज्ञात अधिकारियों के विरुद्ध 2007 और 2013 के बीच खनन के लिए वन भूमि के बदलाव से संबंधित मामले में पीई दर्ज की है.


सीबीआई के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि एजेंसी ने पीई दर्ज की है. यह पीई जेएसपीएल को मिले घटकुरी लौह अयस्क खनन पट्टे के लिए झारखंड के सारंडा वन क्षेत्र में भूमि उपयोग में बदलाव से संबंधित है.

सीबीआई के एक सूत्र ने कहा, “एक औपचारिक प्राथमिकी जल्द ही दर्ज की जाएगी.”

वन एवं पर्यावरण मंत्रालय ने मार्च में झारखंड के वन विभाग को भेजे एक पत्र में कहा था कि मंत्रालय की वन परामर्श समिति उसके समक्ष पहले से मौजूद परियोजनाओं के अलावा वन भूमि में बदलाव का कोई नया प्रस्ताव स्वीकार नहीं करेगी.

सारंडा वन क्षेत्र झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिले के पहाड़ी क्षेत्रों में स्थित एक सघन वन है. यह वन और इसके आसपास के हिस्से सिंहभूम हाथी अभयारण्य के प्रमुख हिस्से में पड़ते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!