राष्ट्रमंडल युवा खेलों में भी कलमाड़ी का घोटाला

महाराष्ट्र की लोक लेखा समिति (पीएसी) की एक रिपोर्ट के अनुसार कॉमनवेल्थ खेल घोटाले के आरोपी सुरेश कलमाड़ी ने पुणे में 2008 में हुए राष्ट्रमंडल युवा खेलों के आयोजन में भी भारी आर्थिक अनियमितताएं की थीं. सुरेश कलमाड़ी इन खेलों की आयोजन समिति के अध्यक्ष थे. अब समिति ने महाराष्ट्र सरकार से सुरेश कलमाड़ी के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज करने की सिफारिश की है.

समिति का कहना है कि कलमाड़ी ने आयोजन समिति के अध्यक्ष रहते समिति के सदस्य सचिव ललित भनोट के साथ मिल कर तय 425.50 करोड़ की राशि के इतर 32.95 करोड़ रुपये की अतिरिक्त राशि आपात व्यय के लिए मांगी थी. इसमें से 25.12 करोड़ की राशि राज्य के खेल एवं युवा निदेशालय ने आपात कोष से आयोजन समिति को दिए और बाकी के 7.93 करोड़ की जिम्मेदारी खेल व युवा निदेशालय की थी.


लोक लेखा समिति के अध्यक्ष गिरीश बापट का कहना है कि राष्ट्रमंडल युवा खेल आयोजन समिति ने इन 25.12 करोड़ रुपए की राशि के उपयोग में अनियमितताएं बरतीं. जब आयोजन समिति से इसका हिसाब मांगा गया तो उन्होंने एक पन्ने पर लिखा हिसाब पकड़ा दिया जो कि हैरान करने वाली बात है. इन कागजों की जाँच करने के बाद पाया गया कि इनमें बहुत कुछ छिपाया गया है, लेकिन फिर भी बाकी कागज मांगे जाने पर समिति के द्वारा उन्हें उपलब्ध नहीं कराया गया.

बापट के अनुसार आयोजन समिति द्वारा खर्च किए गए धन का सही ब्यौरा नहीं देना बताता है कि इसके बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हुआ है. इसके अलावा उन्होंने राज्य के खेल एवं युवा निदेशालय पर भी 7.93 करोड़ की राशि में से सिर्फ 4.36 करोड़ खर्च करने और 3.47 करोड़ रुपए का गबन करने का आरोप लगाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!