सांसद को जहर: रसोइये की संदिग्ध मौत

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के जांजगीर-चांपा की सांसद कमला देवी पाटले को जहर देने के मामले में एक मात्र गवाह रुपेन्द्र लहरे ने सोमवार को सुबह ट्रेन से कूदकर खुदकुशी कर ली. रुपेन्द्र सांसद का कुक था. जिसे जांजगीर पुलिस बयान के आधार पर आरोपी का स्केच बनवाने और पूछताछ के लिए रायपुर ला रही थी. वहीं सांसद पाटले ने कुक की खुदकुशी को हत्या बताते हुए पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाए हैं.

उधर, घटना के बाद जांजगीर-चांपा के एसपी आरिफ शेख ने कुक रुपेन्द्र को रायपुर ला रहे दोनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. फिलहाल सांसद को जहर देने के मामले में एकमात्र गवाह रुपेन्द्र की खुदकुशी ने मामले को और भी पेचीदा बना दिया है. वहीं मामले में पुलिस पर भी सवाल उठने लगे हैं.


पुलिस का कहना है कि भाटापारा के पास चलती ट्रेन में रुपेंद्र ने पेशाब के लिये बाथरुम जाने की बात कही. जब बाथरुम से वह निकला तो उसने छलांग लगा दी. उसके पीछे पुलिसकर्मी ने भी छलांग लगाई. लेकिन रुपेंद्र की मौके पर ही मौत हो गई.

गौरतलब है कि जाजंगीर-चांप सांसद पाटले को कुछ अज्ञात लोगों ने उनके खाने में जहर देकर उन्हें जान से मारने की कोशिश की थी. लेकिन उनके मंसूबे पूरे नहीं हो सके. सांसद ने इस मामले की शिकायत जांजगीर-चांपा के एसपी से की थी.

इस मामले में सांसद के कुक रूपेंद्र ने पुलिस को जो बयान दिया था, उसके घटना वाली शाम को वह नहर किनारे घूम रहा था, जहां उसे कुछ लोगों ने बुलाया और लालच देकर कोई दवा जैसी चीज सांसद के खाने में मिलाने को कहा. जब रूपेंद्र ने ऐसा करने से मना किया तो उसे हथियार दिखा कर धमकी दी थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!