करीना को जिहाद नहीं प्यार में यकीन

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: कपूर खानदान की बिंदास गर्ल करीना अपने खानदान के समान ही ‘प्यार’ करने में विश्वास करती है. करीना ने अपने निजी जिंदगी मे ‘लव’ किया है. उनके ‘लव’ को धर्म के बंधन में बांधा नहीं जा सकता. करीना कपूर ने हकीकत में ‘लव’ किया है तथा उनका यकीन ‘लव जिहाद’ में नहीं है. करीना कपूर ने कपूर खानदान के परंपराओँ के अनुसार अपने ‘लव’ को निभाया है तथा सैफ अली से शादी की है. जाहिर सी बात है कि उनके निजी जिंदगी में ‘लव जिहाद’ के लिये कोई जगह नहीं है. अभिनेता सैफ अली खान से शादी करने वाली करीना कपूर ‘लव जिहाद’ में यकीन नहीं रखतीं. वह कहती हैं कि उन्होंने कभी ऐसी विचार धाराओं या मतों में यकीन नहीं किया.

बेगम करीना ने लव जिहाद के बारे में पूछे जाने पर कहा, “मैं सिर्फ प्यार में यकीन रखती हूं.”


उन्होंने कहा, “सैफ बेहद खुले विचारों वाले हैं और उन्होंने लव जिहाद पर भी एक खुले पत्र के जरिये अपना नजरिया साझा किया है. उन्होंने एक हिंदू लड़की से शादी की, जो मैं हूं और हमने कोर्ट में शादी की थी.”

बॉलीवुड के मशहूर कपूर खानदान की लाड़ली करीना ने कहा, “मुझे लगता है कि प्यार एक ऐसी चीज है, जिसे आप परिभाषित नहीं कर सकते. इसमें एक जुनून, ललक और बहुत सी चीजें होती हैं. यह दो इंसानों के बीच हो सकता है.”

करीना ने कहा, “अब अगर एक हिंदू लड़का है और वह किसी मुस्लिम लड़की से प्यार करने लगता है, तो आप उन्हें रोक नहीं सकते. आप किसी से यह पूछकर तो प्यार नहीं कर सकते कि ‘आप हिंदू या मुस्लमान?”

34 वर्षीया अभिनेत्री ने कहा, “प्यार तो एक अहसास व भाव है. यही वजह है कि मैं लव जिहाद में यकीन नहीं रखती. मैं प्यार की भावना में यकीन रखती हूं.”

करीना की अगली फिल्म ‘बजरंगी भाईजान’ भी एक ब्राह्मण लड़की और मुस्लिम लड़के की प्रेम कहानी है. कबीर खान की इस फिल्म में सलमान खान भी हैं.

करीना राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में विवेल की नई बाथिंग रेंज ‘लव एंड नरिश’ के लांच और ‘बजरंगी भाईजान’ की शूटिंग के लिए थीं. उनका कहना है कि यह फिल्म समाज में सार्थक संदेश देगी और इसे घर परिवार में साथ बैठ कर देखा जा सकेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!