कर्नाटक में विधानसभा चुनावों के लिए मतदान

कर्नाटक की 223 विधानसभा सीटों के लिए मतदान रविवार सुबह सात बजे से शुरु हो गया. राज्य में सरकार बनाने के लिए इस बार मुकाबला भाजपा, कांग्रेस और जेडीएस के अलावा राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री येदिदुरप्पा नीत कर्नाटक जनता पार्टी (केजीपी) के बीच है. राजनीतिक विशेषज्ञों की माने तो केजीपी अपने दम पर सरकार बनाती तो नहीं दिख रही लेकिन वह भाजपा का समीकरण जरूर बिगाड़ सकती है.

स्थानीय सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शुरुआती स्तर पर शहरी क्षेत्रों में मतदान केंद्रों पर कम ही वोटर आते दिख रहे हैं लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में ये संख्या थोड़ी ज्यादा है. केजीपी प्रमुख येदिदुरप्पा शिमोगा में वोटिंग शुरु होने से आधे घंटे पहले ही पहुँच गए और उन्होंने अन्य वोटरों के साथ लाइन में लगकर अपने मताधिकार का प्रयोग किया.

वोटिंग के बाद संवाददाताओं से बातचीत करते हुए येदिदुरप्पा ने भरोसा जताया कि उनकी पार्टी कर्नाटक जनता पार्टी (केजीपी) राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरेगी और बिना किसी सहयोगी के सरकार बनाएगी. येदिदुरप्पा सिमोगा के शिकारपुरी सीट से खड़े हुए हैं.

इस बीच मतदान केंद्रों से खबर आई है की बेंगलुरु के एक बूथ पर तकनीकी दिक्कतों के कारण मतदान रोक दिया गया है वहीं एक सीट पर भाजपा उम्मीदवार की मौत हो जाने के कारण मतदान 28 मई तक टाल दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *