कश्मीर: CRPF के 8 जवान शहीद

श्रीनगर | समाचार डेस्क: पुलवामा में लश्कर के आतंकी हमलें में सीआरपीएफ के 8 जवान मारे गये हैं. सीआरपीएफ के बस पर हमला करने वालें दोनों आतंकियों को मार गिराया गया है. जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादियों ने शनिवार को सीआरपीएफ की एक बस पर घात लगाकर हमला किया, जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के आठ जवान शहीद हो गए और 22 अन्य घायल हो गए हैं. मुठभेड़ में दो आतंकवादी भी मारे गए हैं. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, “श्रीनगर-जम्मू राष्ट्रीय राजमार्ग पर पंपोर शहर के पास फ्रिस्टबल इलाके में सीआरपीएफ की एक बस पर लश्कर आतंकवादियों ने हमला कर दिया. यह बस सीआरपीएफ जवानों को नियमित ड्यूटी के बाद लेकर लौट रही थी.”

उन्होंने कहा, “लश्कर के दो आतंकवादी एक निजी कार में विपरीत दिशा से सामने आ गए और सीआरपीएफ बस सामने खड़े होकर अंधाधुंध गोलीबारी करने लगे. बाद में उन्होंने बस में भी घुसने की कोशिश की.”

अधिकारी ने आगे कहा, “सीआरपीएफ की रोड ओपनिंग पार्टी तेजी से हरकत में आई और दोनों आतंकवादियों को मार गिराया.”

अधिकारी ने कहा, “इस हमले में हमारे आठ जवान मारे गए, जबकि 22 अन्य घायल हुए हैं. सभी घायलों को सेना के श्रीनगर स्थित 92 बेस अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है.”

लश्कर-ए-तैयबा के प्रवक्ता अब्दुल्ला गजनवी ने श्रीनगर की कुछ स्थानीय न्यूज एजेंसियों को ईमेल से बयान जारी में इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

उसने यह भी स्वीकार किया है कि हमले में शामिल संगठन के दोनों आतंकवादी मारे गए हैं.

सीआरपीएफ के प्रवक्ता ने कहा है कि मारे गए दोनों आतंकवादी पाकिस्तानी हैं. प्रवक्ता ने कहा कि इन दोनों फियादीन आतंकवादियों के मार गिराने के साथ ही अभियान समाप्त हो गया है.

प्रारंभ में पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि श्रीनगर जा रहे सीआरपीएफ के एक काफिले पर आतंकवादियों ने पंपोर के पास नाम्बलाबल में राष्ट्रीय राजमार्ग पर हमला कर दिया.

अधिकारी ने कहा था, “सीआरपीएफ के जवानों द्वारा की गई जवाबी कार्रवाई में दो आतंकवादी मारे गए.” अधिकारी ने कहा कि सीआरपीएफ के घायल जवानों को अस्पताल ले जाया गया, जहां आठ ने दम तोड़ दिया.

इस व्यस्त राजमार्ग पर हमले के तुरंत बाद यातायात रुक गया था, जो शनिवार शाम के बाद बहाल हो गया जबकि पंपोर शहर के आसपास तनाव कायम है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *