2014: मोदी-राहुल-केजरीवाल में जंग

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने औपचारिक रूप से घोषणा कर दी है कि वह तीसरी बार प्रधानमंत्री की दौड़ में शामिल नहीं होंगे. इसके बाद यह साफ हो चुका है कि इसी वर्ष होने जा रहे आम चुनाव में मुकाबला भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बीच होने जा रहा है.

लेकिन राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि इस जंग में आम आदमी पार्टी भी अपने उदीयमान नेता अरविंद केजरीवाल के सहारे दांव खेलेगी.


शुक्रवार को अपने संवाददाता सम्मेलन में प्रधानमंत्री ने कहा था कि वह 2014 के आम चुनाव के बाद नए प्रधानमंत्री को ‘मशाल’ सौंपना चाहेंगे. इसके बाद लड़ाई की तस्वीर साफ हो गई है. इस बयान से कांग्रेस नेताओं की राहुल गांधी को मनमोहन सिंह के बाद सत्ता के शीर्ष पर देखने की इच्छा पर मुहर भी लगती है.

प्रधानमंत्री ने यह भी कहा है कि राहुल गांधी के पास प्रधानमंत्री पद का दावेदार होने की ‘पूर्ण योग्यता’ है.

कांग्रेस के सदस्य हालांकि पूर्व में राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी के रूप में पेश करने की मांग कर चुके हैं, फिर भी पार्टी ने अभी तक इस मुद्दे पर कोई अंतिम फैसला नहीं लिया है. इसके अलग पार्टी कहती रही है कि ‘उपयुक्त समय’ पर प्रधानमंत्री प्रत्याशी के नाम की घोषणा की जाएगी.

पार्टी सूत्रों ने कहा कि जो लोग प्रधानमंत्री पद प्रत्याशी की घोषणा के लिए जोर डाल रहे हैं उनका मानना है कि इससे मतदाताओं को अपनी पसंद चुनने का स्पष्ट अवसर मिलेगा.

भाजपा अपना प्रधानमंत्री उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को घोषित कर चुकी है और अब आप के भीतर इस बात पर मंथन चल रहा है कि पार्टी आम चुनाव के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी के रूप में घोषित करे. केजरीवाल ने हालांकि यह कह रखा है कि वह लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!