केन्या: मुठभेड़ जारी, ग्रेनेड दागे गये

नैरोबी | एजेंसी: सोमवार तड़के अलकायदा से जुड़े सोमालियाई बंदूकधारियों ने केन्या की राजधानी नैरोबी के वेस्टगेट शॉपिंग मॉल से बंधकों को छुड़ाने की कोशिश कर रहे सुरक्षाकर्मियों पर ग्रेनेड दागे हैं. यह जानकारी एक प्रत्यक्षदर्शी ने दी.

प्रत्यक्षदर्शी के अनुसार इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ है, ये ग्रेनेड उस वक्त दागे गए जब केन्या के सुरक्षाकर्मी आतंकवादियों के खिलाफ आखिरी लड़ाई की तैयारी कर रहे थे. इन आतंकवादियों ने केन्या के अमीर और विदेशी नागरिकों की भीड़भाड़ वाले इस मॉल में शनिवार को हमला किया था.


उन्होंने कहा, “इन बंदूकधारियों ने सुबह मॉल के अंदर से ग्रेनेड छोड़े. हालांकि, इस घटना में कोई घायल नहीं हुआ. वे थके मांदे नजर आ रहे हैं. शायद वे खुद को और पूरी इमारत को उड़ा देना चाहते हैं. उन्होंने यही काम पूरी रात किया.”

केन्या की सेना यानी केडीएफ का कहना है कि इसने इमारत के ज्यादातर हिस्से को नियंत्रण में ले लिया है, और सोमवार को तीसरे दिन में पहुंच चुके इस अभियान को जल्द समाप्त करने के प्रयास कर रहे हैं.

केडीएफ के प्रवक्ता साइरस ओगुना ने कहा, “ज्यादातर बंधकों को छुड़ा लिया गया है और केडीएफ ने इमारत के ज्यादातर हिस्से को अपने नियंत्रण में ले लिया है. हमें विश्वास है कि इमारत के अंदर 10 से अधिक बंधक मौजूद नहीं हैं.”

इस घटना में अब तक 68 लोग मारे गए हैं और 175 से अधिक घायल हुए हैं. मृतकों में दो भारतीय, दो फ्रांसीसी, दो कनाडाई, तीन ब्रिटिश, एक चीनी और एक घाना का नागरिक भी शामिल है.

केडीएफ ने कहा, “इस घटना को जल्द सुलझाने के लिए हर प्रयास जारी है.” इसके मुताबिक इस अभियान में केडीएफ के भी चार जवान घायल हुए हैं जिन्हें अस्पताल भेजा गया है.

अल-शबाब ने हालांकि, कोई मांग नहीं की है लेकिन इसने शनिवार को हमले की जिम्मेदारी लेते हुए सोमालिया से केन्या के सैनिकों को हटाने की मांग की थी.

इधर, केन्या के राष्ट्रपति उहुरू केन्याता ने आतंकवादियों के दबाव का खंडन करते हुए सोमालिया से सैनिकों को वापस लेने से इंकार कर दिया है. उन्होंने कहा कि केन्या वैश्विक आतंकवाद से लड़ने में नरम नहीं पड़ेगा.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “हम एक देश होने के नाते केन्या, सोमालिया और विश्वभर की जनता के खिलाफ शुरू हुए आतंकवाद के खिलाफ जारी युद्ध में लड़ने के लिए सोमालिया गए हैं. यह केन्या का युद्ध नहीं, वैश्विक युद्ध है.”

इस हमले के मद्देनजर केन्या के अधिकारियों ने पूरे देश विशेषकर सोमालिया से जुड़ी सीमा पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!