बॉलीवुड के तीन ‘खान’ आमिर…

नई दिल्ली | मनोरंजन डेस्क: जिस बॉलीवुड पर कभी केएस सहगल से लेकर देवानंद, जितेन्द्र, धर्मेन्द्र, विनोद खन्ना तथा अमिताभ ने राज किया था उसमें आज ‘तीन खानों’ की तूती बोली जाती है. इनके नाम है आमिर-शाहरुख-सलमान खान. ‘खान ब्रदर्स’ का सदस्य होने के बाद भी उन्की खूबिया अलग-अलग है. इनमें सबसे जुदा आमिर खान हैं जो सामाजिक मुद्दों को भी उठाते रहते हैं. फिलहाल, बॉलीवुड के ‘तीन खान’ आमिर, शाहरुख और सलमान यूं तो अपनी जिंदगी के 50वें वसंत में हैं, लेकिन उनकी उम्र का उनके करियर पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. व्यापार विशेषज्ञों और फिल्मी सितारों का अनुमान है कि उम्र से उनका करियर खास प्रभावित नहीं होगा और हिंदी फिल्म उद्योग में उनका भविष्य बहुत उज्वल है.

तीनों खान के साथ मुख्य भूमिका में काम कर चुकीं फिल्म अभिनेत्री कैटरीना कैफ का कहना है कि यह उनका जुनून है, दर्शकों का प्यार है और श्रेष्ठ रहने की इच्छा है जो उन्हें काम करने के लिए प्रेरित करती रहती है.


कैटरीना ने कहा, “प्रतिभावान होने के अलावा वे तीनों असाधारण व्यक्ति हैं और वे इस फिल्म उद्योग में तब तक रहेंगे जब तक वे रहना चाहते हैं.”

ज्ञात हो कि आमिर खान शनिवार को 50 साल के हो गए हैं. लेकिन उनके पास एक अजेय ताकत है, जो कि हर बार कुछ नया लाते हैं और पुराने सभी रिकॉर्डो को ध्वस्त कर देते हैं.

‘कयामत से कयामत तक’ और ‘दिल है कि मानता नहीं’ में आमिर ने एक कॉलेज में पढ़ने वाले लड़के की भूमिका निभाई थी. इसके बाद उन्होंने अपनी फिल्मों में संदेश देने वाले विषयों को चुना.

उन्होंने फिल्म ‘रंग दे बसंती’ से भ्रष्टाचार जैसे सामाजिक मुद्दे को उठाया, ‘तारे जमीन पर’ के माध्यम से लोगों को डिस्लेक्सिया के बारे में बताया, शिक्षा प्रणाली पर उन्होंने ‘थ्री ईडियट’ फिल्म बनाई और हाल ही में आई फिल्म ‘पीके’ से उन्होंने संगठित धर्म और धर्मगुरुओं पर तीक्ष्ण कटाक्ष किया.

इसी तरह शाहरुख खान भी दो नवंबर को 50 साल के हो जाएंगे.

शाहरुख ने टेलीविजन धारावाहिक ‘फौजी’ और ‘सर्कस’ से अपनी करियर की शुरुआत की थी. इसके बाद उन्होंने फिल्मी दुनिया में पदार्पण किया और ‘बाजीगर’ और ‘डर’ जैसी फिल्में कीं. इसके बाद शाहरुख खान की फिल्म ‘दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे’ आई जिसने उन्हें सफलता की सीढ़ी पर चढ़ाया.

इसके बाद ‘दिल तो पागल है’ और ‘कुछ कुछ होता है’ जैसी फिल्में आईं जिससे उन्हें बॉलीवुड के ‘किंग ऑफ रोमांस’ की संज्ञा मिली.

उन्होंने ‘डॉन’, ‘रा-वन’, ‘चक दे इंडिया’, ‘स्वदेश’, ‘ओम शांति ओम’ और ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ जैसी कई सफल फिल्में की. इस दौरान उन्होंने हालांकि टीवी से अपना रिश्ता बनाए रखा और ‘कौन बनेगा करोड़पति’, ‘जोर का झटका’ जैसे रियलिटी शो में बतौर प्रस्तोता काम किया.

वहीं अगर बात करें दबंग सलमान की तो वह टीवी और फिल्म दोनों ही माध्यमों के दर्शकों के दिलों पर राज करते हैं. उनकी छवि एक व्यवसायिक कलाकार की है. माया नगरी में उनकी छवि एक विश्वसनीय कलाकार की है. उन्हें हिदी सिनेमा का ‘बिग बॉस’ भी कहते हैं.

वह रोमानी, हास्य, मार-धाड़ से भरपूर और पारिवारिक विषयों पर आधारित सभी प्रकार की फिल्में कर चुके हैं. लेकिन फिल्म उद्योग में अपनी दूसरी पारी में सलमान को ‘दबंग’ से उछाल मिली. इसके बाद उन्होंने कई सफल फिल्में दीं, जिनमें ‘रेडी’, ‘बॉडीगार्ड’, ‘वांटेड’ और ‘किक’ शामिल हैं.

टेलीविजन पर सलमान ने ‘दस का दम’ से पदार्पण किया था, जो कि ज्यादा दमदार नहीं निकला. इसके बाद रियलिटी शो ‘बिग बॉस’ के प्रस्तोता के तौर पर सलमान टीवी दर्शकों के दिलों पर भी छा गए.

व्यापार विश्लेषक कोमल नाहटा के मुताबिक तीनों खान 50 साल को जरूर होने वाले हैं लेकिन बॉक्स ऑफिस पर उनका दबदबा 25 साल के अभिनेता की भांति बरकरार है.

फिल्म वितरक राजेश थडानी का कहना है कि शायद ही कोई और अभिनेता इतने समय तक टिके.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!