हर माह बढ़ेंगे रसोई गैस के मूल्य

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: रसोई गैस के मूल्य हर माह 10 रुपये बढ़ेंगे. दिल्ली स्थित सूत्रों का मानना है कि मोदी सरकार के पास तेल कंपनियों का घाटा कम करने के लिये कई प्रस्ताव हैं जिनमें से एक यह है कि प्रतिमाह रसोई गैस के मूल्य को बढ़ाकर सब्सिडी का बोझ कम किया जा सकता है.

फिलहाल, सब्सिडी वाले रसोई गैस सिलेंडर का मूल्य 414 रुपये तथा बगैर सब्सिडी वाले रसोई गैस के सिलेंडर का मूल्य 905 रुपये है. यदि रसोई गैस के सिलेंडरों का मूल्य हर माह 10 रुपये करके बढ़ाया जाता है तो उससे केन्द्र सरकार के तेल के सब्सिडी बिल में करीब 7,000 करोड़ रुपयों की भरपाई होगी. जबकि, इराक संकट की वजह से इस वर्ष तेल के सब्सिडी का बिल 1.40 लाख करोड़ रुपये तक पहुंच सकता है.

अभी-अभी, बढ़ाये गये रेल के किरायों से लोग जूझ ही रहे थे कि इस बीच रसोई गैस के सिलेंडरों के दाम बढ़ने की खबर को मोदी सरकार का जनता के लिये दूसरा कड़वा फैसला माना सकता है. गौरतलब है कि ‘अच्छे दिन आने वाले हैं’ के नारे के साथ भाजपा ने बहुमत पाया है.

यदि महंगाई इसी तरह से हर माह बढ़ने लगे तथा वह भी सरकारी फैसले से तो जनता कैसे हजम कर सकती है कि अच्छे दिन आने वाले हैं. केन्द्र सरकार के मंत्री बता रहें हैं कि मोदी सरकार का रेल किराये को बढ़ाने का फैसला, यूपीए सरकार के द्वारा किये गये प्रस्ताव पर आधारित था. इससे इस बात का संकेत मिलता है कि मोदी सरकार, महंगाई को नियंत्रण में रखने में अपने आप को समर्थ नहीं पा रही है.

बहरहाल, रसोई गैस के दाम प्रतिमाह 10 रुपये यदि बढ़ाने की घोषणा की जाती है तो इससे देश के राजनीति में एक और उबाल आने की संभावना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *