इंदौर अस्पताल में यह क्या हो रहा है ?

इंदौर | समाचार डेस्क: मध्यप्रदेश के इंदौर में एक नवजात के शव को चीटियों ने नोंच खाया. इससे पहले इंदौर के ही अस्पताल में दो बच्चों की मौत जीवनदायिनी ऑक्सीजन के स्थान पर अन्य गैस देने से हो गई है. अब इंदौर के लोग सवाल कर रहें हैं कि वहां आकिर हो क्या रहा है. मध्य प्रदेश के इंदौर जिला अस्पताल में एक नवजात शिशु (बालिका) की पहले कथित तौर पर कर्मचारियों की लापरवाही के चलते मौत हो गई और उसके बाद शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखा गया तो उसे चींटियों ने नोच डाला.

जिला प्रशासन ने इस मामले की मजिस्ट्रेट से जांच के आदेश दिए हैं. जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. रतन खंडेलवाल ने मंगलवार को कहा कि बच्ची के उपचार में कथित लापरवाही और शव को चीटियों द्वारा नोचे जाने की मजिस्ट्रेट से जांच के आदेश जिलाधिकारी पी. नरहरि ने दिए हैं.


सूत्रों के अनुसार, सिरपुर निवासी सुरेश बघेल की पत्नी संगीता ने जिला अस्पताल में शुक्रवार को एक बच्ची को जन्म दिया था. सोमवार सुबह बच्ची का निधन हो गया. परिजनों ने आरोप लगाया है कि चिकित्सकों एवं नर्सिग स्टॉफ की लापरवाही के चलते बच्ची का उचित उपचार नहीं हुआ, और उसने दम तोड़ दिया. परिजनों ने अस्पताल में हंगामा भी किया.

सूत्रों ने बताया कि बच्ची का शव जब पोस्टमार्टम हाउस में रखा था, तब उस पर कथित तौर पर चीटियां पाई गईं और शव को चींटियों ने नोचा भी था.

इससे पहले इंदौर के ही महाराजा यशवंतराव अस्पताल में दो नवजात शिशुओं को ऑक्सीजन के बजाय बेहोशी की गैस दिए जाने से मौत हो गई थी और बीते रोज दमोह जिला अस्पताल में एक नवजात शिशु को मृत घोषित कर दिया गया था, मगर वह श्मशान में जी उठा था.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!