केजरीवाल की हत्या को आमादा माफिया

नई दिल्ली | संवाददाता: दिल्ली में भ्रष्टाचार के खिलाफ जंग छेड़ने वाले अरविंद केजरीवाल को जान का खतरा है. यह खतरा टैंकर माफिया से है जिसके लिये इंटीलिजेंस ब्यूरों ने दिल्ली पुलिस को आगाह किया है. बताया जा रहा है कि दिल्ली के टैंकर तथा टेंडर माफिया अरविंद केजरीवाल की भ्रष्टचार विरोधी मुहिम से खासे नाराज हैं तथा आस-पास के अपराधियों की मदद से उन पर हमला करवाया जा सकता है.

दिल्ली पुलिस अरविंद केजरीवाल के सुरक्षा लेने से इंकार करने के कारण पशोपेश में है कि किस प्रकार से उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाये. उधर उत्तर प्रदेश की पुलिस ने अरविंद केजरीवाल के न कहने के बावजूद भी उन्हें जेड सुरक्षा देना शुरु कर दिया है. अरविंद


केजरीवाल को उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने क्षेत्र में 30 पुलिस तथा 2 सब इंस्पेक्टरों की सुरक्षा दे रखी है. उनके कार के आगे एक एस्कोर्ट कार तथा पीछे एक सुरक्षा जीप रहेगी. कौशांबी के गिरनार अपार्टमेंट के आस-पास जहां अरविंद केजरीवाल रहते हैं तैनात पुलिस को सतर्क कर दिया गया है.

दिल्ली में सरकार बनाने के 48 घंटें के भीतर ही आम आदमी पार्टी की सरकार ने दिल्लीवासियों को प्रति परिवार, प्रतिदिन 666 लीटर पानी मुफ्त में देना शुरु कर दिया है. जिससे दिल्ली के पानी टैंकर माफियाओं के मुनाफे पर चोट हुई है. अब लोग टैंकर माफियाओं से पानी लेने की जगह सरकारी पानी के उपयोग पर जोर दे रहें हैं. दिल्ली की जनता ने आम आदमी पार्टी सरकार द्वारा उपलब्ध कराये गये हेल्प लाइन नंबर से भ्रष्टाचारियों के खिलाफ के खिलाफ शिकायत करना शुरु कर दिया है.

देश में भ्रष्टाचार विरोध की अलख जगाने वाले अरविंद केजरकीवाल को भ्रष्टाचारियों से जान का खतरा हो सकता है इस बात की संभावना पहले से ही व्यक्त की गई थी. अब जबकि इंटीलिजेंस ब्यूरों ने दिल्ली पुलिस को खतरे का वार्निंग दे दिया है तो आम आदमी पार्टी को अपने रुख में बदलाव लाना पड़ेगा. सवाल वीआईपी संस्कृति के विरोध करना नहीं है, प्रश्न उठ खड़ा होता है कि भ्रष्टाचार विरोध की अलख जगाने वाले अरविंद केजरीवाल को जिंदा तथा सुरक्षित कैसे रखा जाये.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!