दक्षिण अफ्रीकी सत्याग्रह पर छवि प्रदर्शनी

नई दिल्ली | एजेंसी: राष्ट्रीय गांधी संग्रहालय ने महात्मा गांधी द्वारा दक्षिण अफ्रीका में 1906 में शुरू किए गए सत्याग्रह के अंतिम चरण (1913-1914) का शताब्दी वर्ष मनाने का निर्णय लिया है. इसके तहत पहली अक्टूबर से एक छाया चित्र प्रदर्शनी का आयोजन किया है.

राष्ट्रीय राजधानी के राजघाट स्थित संग्रहालय भवन में यह प्रदर्शनी अगले वर्ष पहली अक्टूबर, 2014 तक जारी रहेगी.


संग्रहालय के मानद निदेशक, वरिष्ठ गांधीवादी रामचंद्र राही ने बताया कि महात्मा गांधी के पोते और पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल गोपाल कृष्ण गांधी मंगलवार अपराह्न् इस प्रदर्शनी का उद्घाटन करेंगे.

उल्लेखनीय है कि महात्मा गांधी ने दक्षिण अफ्रीका में भारतीयों पर लगाए गए कानूनी प्रतिबंधों और कानूनी कर के विरोध में 1906 में सत्याग्रह शुरू किया था. लेकिन 1908 तक यह ठंडा पड़ गया था. 1913 में सत्याग्रह ने फिर जोर पकड़ा.

इस बीच वहां के सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश सर्ले ने एक फैसले में हिंदू और मुस्लिम शादियों को मान्यता देने से इंकार कर दिया. फिर क्या, फैसले से नाराज भारतीय महिलाएं सत्याग्रह में कूद पड़ीं. अंतिम चरण के सत्याग्रह में महिलाओं की भागीदारी महत्वपूर्ण रही और सत्याग्रह सफल रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!