‘आइटम सान्ग’ शब्द से नफरत: मलाइका

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: बॉलीवुड की ‘बदनाम मुन्नी’ मलाइका को ‘आइटम सांग’ शब्द से सख्त नफरत है. मलाइका इस तरह के गाने पर डांस करने का मौका मिलने पर इसे जरूर करती है क्योंकि इसमें उसे मजा आता है. मलाइका इसे बदकिस्मती मानती है कि लोग गाने के एक प्रकार को ‘आइटम सांग’ कहते हैं. मलाइका की तरह उनके बेटे अरहान को भी ‘आइटम सांग’ से फर्क नहीं पड़ता है. अरहान को जो गाना पसंद आता है वह अपनी मां, मलाइका को बताता है. ‘मुन्नी बदनाम’, ‘छैया छैया’, और ‘अनारकली डिस्को चली’ जैसे आइटम सान्ग देने के लिए जानीं जाने वाली अभिनेत्री मलाइका अरोड़ा खान का कहना है कि उन्हें डांस करने में मजा आता है. उनके इस काम से उनके बेटे को कोई फर्क नहीं पड़ता.

यह पूछे जाने पर कि आपके आइटम सान्ग पर बेटे अरहान की क्या प्रतिक्रिया होती है? मलाइका ने कहा, “उसे मेरे आइटम सान्ग से फर्क नहीं पड़ता. वह अभी बहुत छोटा एवं मासूम है. अगर उसे गाना पसंद आता है, तो वह बताता है कि यह उसे अच्छा लगा.”

मलाइका ने कहा, “मेरी नजर में गाने फिल्म का हिस्सा होते हैं. एक गाने का हिस्सा होना मजेदार होता है, लेकिन यह इस पर भी निर्भर करता है कि इसे कैसे फिल्माया व प्रकाशित किया गया है. मुझे आइटम सान्ग पसंद है. मुझे जब भी इनका हिस्सा बनने का अवसर मिलता है, मैं हमेशा हां कहती हूं क्योंकि मुझे इन्हें करने में मजा आता है.”

हिंदी सिनेजगत में भले आइटम सान्ग को गलत निगाह से देखा जाता हो, लेकिन मलाइका कहती हैं कि वह आइटम सान्ग को विशेष गाने की उपाधि देना चाहेंगी.

उन्होंने कहा, “मैं कभी उस तरह नहीं देखती. बदकिस्मती से लोगों ने आइटम सान्ग को अपमानजनक चीज बना दिया है..मैं इसे विशेष गाने का नाम देना चाहूंगी. मुझे ‘आइटम सान्ग’ शब्द से नफरत है.”

“Munni Badnaam Hui”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *