मैं जोगन नहीं: मनीषा

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: फिल्म ‘सौदागर’ की इलु-इलु गर्ल मनीषा ने ‘दिल से’ अपने ‘मन’ की बात कहा है कि वह ‘1942 अ लव स्टोरी’ को छोड़कर साध्वी बनने नहीं जा रही है. फिल्म ‘लज्जा’ की मनीषा को मालूम है कि साध्वी बनने से उसे ‘मोक्ष’ मिलने नहीं जा रहा है. इसीलिये मनीषा ‘गुप्त’ रूप से ‘कच्चे धागों’ को तोड़कर ‘मुंबई एक्सप्रेस’ में सवार हो गई है. सभी जानते हैं कि मनीषा इतनी ‘संगदिल सनम’ नहीं है कि ‘अचानक’ बॉलीवुड को त्यागकर ‘खामोशी’ अख्तियार कर ले. फिल्म अभिनेत्री मनीषा कोईराला का कहना है कि वह भले ही कई अवसरों पर भगवा रंग के परिधान पहने देखी जाती हैं, लेकिन उनका विचार साध्वी बनने का नहीं है. मनीषा ने कहा कि सन्यासी बनने और आध्यात्म का जीवन जीने से पहले अभी उन्हें काफी कुछ करना बाकी है.

मनीषा हाल ही में कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी से उबरी हैं. 44 वर्षीया अभिनेत्री ने सोशल नेटवर्किंग वेबसाइट फेसबुक पर अपने विचार साझा किए.


उन्होंने लिखा, “शुभ प्रभात. मैं कहना चाहती हूं कि मुझे साधु और साध्वियों की संगति में रहने का सौभाग्य जरूर मिला है, लेकिन मैं अभी साध्वी नहीं बनने जा रही.”

मनीषा ने हालांकि स्वीकार किया कि उन्होंने सन्यासी बनने के बारे में सोच-विचार जरूर किया था.

उन्होंने कहा, “हां मेरे दिमाग में सन्यासी बनने की बात चल रही थी, लेकिन वह इसलिए कि मैं इसे लेकर काफी जिज्ञासु थी.”

उन्होंने कहा, “साध्वी बनने के सही मायने भगवा कपड़े पहनने से कहीं ज्यादा हैं. इसलिए मुझे पता है कि साध्वी बनने की काबिलियत मुझमें नहीं है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!