माओवादी समर्पण-अब तक 24

दंतेवाड़ा | समाचार डेस्क: छत्तीसगढ़ में माओवादियों में आत्मसमर्पण की होड़ लग गई है. पिछले छह दिनों में 24 माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया है. ये आत्मसमर्पण ऐसे समय में हुये हैं, जब माओवादी जनपितुरी सप्ताह मना रहे हैं और अपने शहीदों को याद कर अपने संगठन विस्तार में जुटे हुये हैं.

पुलिस का दावा है कि सोमवार को 12 माओवादियों ने कोरापुट, ओडिशा में जा कर आत्मसमर्पण किया. ये माओवादी आंध्र-ओडिशा बार्डर स्पेशल ज़ोनल कमेटी के सदस्य हैं. हालांकि इनमें से कोई भी हार्ड कोर माओवादी नहीं था और अधिकांश लोग माओवादियों के जन संगठन से जुड़े हुये बताये जाते हैं और आरोप है कि माओवादियों के लिये नाच-गाना करके भीड़ जुटाने का काम करते हैं. ये सभी आरोपी डंसील गांव के हैं. इससे पहले सात जून को भी चार माओवादियों ने कोरापुट में ही आत्मसमर्पण किया था.


तीन दिन पहले भी कोंडागांव में आठ माओवादियों ने आत्मसमर्पण किया था. उनका आरोप था कि संगठन में आंध्र के माओवादियों का दबदबा है और वे छत्तीसगढ़ के सदस्यों को प्रताड़ित भी करते हैं.

हालांकि छत्तीसगढ़ में आत्मसमर्पण करने वाले अधिकांश माओवादियों के पास से पुलिस कोई ऐसा हथिहार बरामद नहीं कर पाती, जिसे किसी बड़ी सफलता से जोड़ा जा सके. आम तौर पर समर्पण करने वाले अधिकांश माओवादी अपने साथ या तो भरमार बंदूक ले कर आते हैं या फिर बहुत हुआ तो 3 नॉट 3 की राइफल.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!