माराडोना जीते चीनी कंपनियों के खिलाफ मुकदमा

बीजिंग: विश्व के महानतम फुटबॉल खिलाड़ियों में शुमार डिएगो माराडोना ने तीन चीनी कंपनियों के खिलाफ उनकी अनुमति के बिना उनके नाम का इस्तेमाल करने पर दर्ज मुकदमा जीत लिया है. अर्जेंटीना के इस पूर्व खिलाड़ी के द्वारा दर्ज याचिका में आरोप लगाए गए थे कि हॉट ब्लडेड सॉकर नामक एक ऑनलाइन गेम में उनकी अनुमति के बिना उनके हस्ताक्षर और और उन्हें दिखाते कार्टून का इस्तेमाल किया है.

इस गेम का निर्माण चीनी कंपनी द9 लि. द्वारा किया गया था और यह सीना ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है. माराडोना ने मामले में मुआवजे के तौर पर शंघाई की द 9 इंफर्मेशन टेक्नॉलजी कंपनी, द 9 कंप्यूटर टेक्नॉलजी कंसल्टिंग कंपनी और बीजिंग सिना इंटरनेट इंफर्मेशन सर्विस कंपनी से दो करोड़ युआन की मांग की थी


अब इस मामले पर सुनवाई करते हुए एक चीनी अदालत ने माराडोना की शिकायत को सही पाया है और इन कंपनियों को आदेश दिए हैं कि वह माराडोना को 4 लाख 90 हजार डॉलर (करीब 2 करोड़ 86 लाख रुपए) हर्जाने के रूप में दें.

न्यायाधीश ने बताया है कि जुर्माने की रकम माराडोना की लोकप्रियता और तस्वीर की इस्तेमाल की अवधि देखते हुए तय की गई है. न्यायाधीश ने इन कंपनियों को अपनी वेबसाइट पर 90 दिन तक एक माफीनामा भी प्रदर्शित करने के आदेश दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!