कांग्रेस द्वारा सर्वदलीय बैठक का बहिष्कार

रायपुर | छत्तीसगढ़ संवाददाता: छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक का कांग्रेस बहिष्कार करेगी. कांग्रेस नेताओं पर नक्सल हमले के बाद भाजपा सरकार द्वारा गुरुवार 30 तारीख को सर्वदलीय बैठक बुलाई है.

नक्सली हमले से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नंदकुमार पटेल, पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेंद्र कर्मा और पूर्व विधायक उदय मुदलियार समेत अन्य कांग्रेस नेताओं की मौत ने पार्टी को झकझोर कर रख दिया है. इसको लेकर सरकार के खिलाफ पार्टी नेताओं में गुस्सा है. इस पूरे मामले पर चौतरफा आलोचना झेल रही सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है. यह बैठक नए मंत्रालय में सुबह 11 बजे होगी. इस बैठक में शामिल होने सभी राजनीतिक दलों, सामाजिक और जनसंगठनों के मुख्य पदाधिकारियों को निमंत्रण पत्र भेजा गया है.


बताया गया कि बैठक में नक्सल समस्या को लेकर रायशुमारी होगी. सूत्रों के मुताबिक बैठक में राजनीतिक दलों के नेताओं की सुरक्षा से लेकर राजनीतिक कार्यक्रमों में सुरक्षा को लेकर भी चर्चा होगी. इस बैठक में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी मौजूद रहेंगे, लेकिन सरकार की इस सर्वदलीय बैठक का कांग्रेस ने बहिष्कार का निर्णय लिया है. सूत्रों के मुताबिक इस मामले पर कांग्रेस के प्रदेश पदाधिकारियों की एक बैठक हुई है, इसमें यह फैसला लिया गया.

कांग्रेस नेताओं के स्वर इस मामले पर काफी तीखे थे. कांग्रेस ने कहा कि सब कुछ लुटाने के बाद अब सरकार के होश आने का कोई मतलब नहीं है. कांग्रेस नेताओं ने कहा कि प्रमुख नेताओं को हम खो चुके हैं, ऐसे में अब सर्वदलीय बैठक का कोई औचित्य नहीं है.

श्रद्धांजलि देने 3 को विशेष सत्र
नक्सल हमले में मारे गए पूर्व गृहमंत्री एवं कांग्रेस विधायक नंदकुमार पटेल, पूर्व मंत्री एवं पूर्व नेता प्रतिपक्ष महेन्द्र कर्मा एवं पूर्व विधायक उदय मुदलियार को श्रद्धांजलि देने के लिए 3 जून को एक दिन का विशेष सत्र बुलाया गया है. विधानसभा के प्रमुख सचिव देवेन्द्र वर्मा ने बताया कि एक दिन के इस सत्र में सिर्फ दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी जाएगी. इसके अलावा किसी अन्य विषय पर कोई चर्चा नहीं होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!