एके 47 बनाने वाले नहीं रहे

मास्को | समाचार डेस्क: रूसी राइफल एके-47 के अविष्कारक मिखाइल कलाश्निकोव का औद्योगिक शहर इजेवस्क में निधन हो गया. यह जानकारी समचार एजेंसी सिन्हुआ ने दी. रूस के उदमुर्त गणराज्य के राष्ट्रपति के प्रेस सचिव विक्टर चुकोव ने बताया, “आज हमें एक बुरी खबर मिली है..लंबी बीमारी के बाद कलाश्निकोव का 94 वर्ष की उम्र में निधन हो गया.”

कलाश्निकोव को नवंबर के मध्य में गंभीर लेकिन स्थिर अवस्था में उदमुर्त की राजधानी इजेवस्क में सघन चिकित्सा इकाई में भर्ती कराया गया था. जून में कथित तौर पर पेसमेकर प्रत्यारोपण के लिए मास्को में कलाश्निकोव की एक सर्जरी हुई थी.

कलाश्निकोव द्वारा बनाई गई स्वचालित रायफल दुनिया का सबसे ज्यादा प्रचलित और व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला हथियार है.

तुलनात्मक रूप से इसका निार्माण सस्ता है, इसके साथ ही यह विश्वस्नीय है और इसकी मरम्मत भी आसान है.

बीबीसी के मुताबिक, कलश्निकोव को राज्य द्वारा सम्मानित किया गया था.

माना जाता है कि अब 100 से अधिक देशों में प्रयोग की जा रही एके-47, 20वीं शताब्दी के उत्कृष्ट अविष्कारों की सूची में शामिल है.

2002 में जर्मनी यात्रा के दौरान कलाश्निकोव ने कहा कि था कि उन्हें अपने अविष्कार पर गर्व था, लेकिन वह इस बात से दुखी भी थे कि एके-47 आतंकवादियों द्वारा व्यापक रूप से प्रयोग की जा रही है.

कलाश्निकोव के निधन के कुछ घंटों पहले ही उनके नाम के एक उद्यम- कलाश्निकोव कन्सर्न में घोषणा की गई थी कि कंपनी अपनी जानी मानी एके राइफल का आधुनिकीकरण करेगी और इसका निर्यात बढ़ाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *