मोदी और भाजपा एकदूजे के पूरक: राजनाथ

नई दिल्ली | एजेंसी: भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने नरेंद्र मोदी और पार्टी दोनों को एक दूसरे का पूरक बताया है. राजनाथ का ये बयान पार्टी के वरिष्ठ नेता डा. मुरली मनोहर जोशी के उस बयान का बचाव करते आया है जिसमें उन्होंने एक न्यूज चैनल के साथ बातचीत में कहा था कि देश में मोदी की नहीं बल्कि भाजपा की लहर है

राजनाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि नरेंद्र मोदी और भाजपा दोनों को अलग कर नहीं देखा जा सकता है. उन्होंने कहा कि मोदी आज देश में सर्वाधिक लोकप्रिय नेता हैं और जनता केवल उन्हीं को प्रधानमंत्री के रूप में देख रही है.


राजधानी में स्थित पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए राजनाथ ने कहा कि वरिष्ठ भाजपा नेता डा. मुरली मनोहर जोशी का इस सबंध में जो बयान आया है उसे गलत ढंग से पेश किया जा रहा है.

राजनाथ ने बड़ी चतुराई के साथ इस सवाल को टालते हुए भाजपा और मोदी को एक माना. उन्होंने कहा कि देश में इस समय परिवर्तन की लहर चल रही है और जो लोग परिवर्तन चाहते हैं, वे विकल्प के रूप में भाजपा के नेतृत्व वाली राजग की सरकार चाह रहे हैं.

इस सम्बंध में राजनाथ का तर्क था कि जनता 1998 से 2004 के बीच राजग की सरकार और उसके बाद कांग्रेस के नेतृत्व वाली संप्रग की सरकार की तुलना कर रही है उसके बाद वह इस नतीजे पर पहुंची है कि देश में बेहतर सुशासन राजग ही दे सकती है.

राजनाथ ने दावा किया कि तुलनात्मक दृष्टि से राजग का शासन बहुत अच्छा था. उस समय आर्थिक विकास दर आठ फीसदी से अधिक और मुद्रास्फीति पांच प्रतिशत से कम थी लेकिन संप्रग शासन में यह विकास दर मात्र 4़ 8 प्रतिशत है जबकि मुद्रास्फीति 10 प्रतिशत पहुंच चुकी है. देश में पूंजीनिवेश का माहौल नहीं है. विदेशी निवेशकों के साथ-साथ घरेलू निवेशक भी यहां निवेश करने से कतरा रहे हैं.

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि संप्रग की सरकार राजनयिक मोर्चे पर भी विफल रही है. आंतरिक और वाह्य सुरक्षा भी इस सरकार के जमाने में बहुत ही लचर रूप में रहा. ऐसे में देश की जनता यह मानकर चल रही है कि इस स्थिति से छुटकारा भाजपा के ही नेतृत्व में ही मिल सकता है और उसी में इन चुनौतियों से निपटने की क्षमता है.

राजनाथ ने दावा किया कि वर्तमान माहौल को देखते हुए यह लग रहा है कि भाजपा और उसके सहयोगी दल मिलकर लगभग 300 सीटें जीत सकते हैं. उप्र की 80 सीटों में उन्होंने पिछले 58 सीटों के रिकॉर्ड को भी तोड़ने का दावा किया.

एक दूसरे सवाल के जवाब में राजनाथ ने कहा कि यह सत्य है कि पूरे देश में गुजरात के विकास मॉडल को नहीं लागू किया जा सकता क्योंकि हर जगह की स्थिति अलग होती है लेकिन गुजरात में अभूतपुर्व विकास हुआ है जिसकी सराहना सोनिया के नेतृत्व वाली राजीव गांधी फाउंडेशन नामक संस्था और अमेरिका की संसदीय कमेटी ने भी की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!