मोदी-जिनपिंग, बात-मुलाकात अच्छी हुई

फोर्टलेजा | समाचार डेस्क: मोदी-जिनपिंग के बीच सोमवार को 80 मिनट तक बातचीत हुई. इस मुलाकात के बाद भारतीय प्रवक्ता अकबरुद्दीन ने कहा बात भी अच्छी हुई, मुलाकात भी अच्छी हुई.

मोदी-जिनपिग बैठक में तय हुआ है कि चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग संभवतः सितंबर में भारत यात्रा पर आयेंगे. भारत के प्रधानमंत्री मोदी के भी नवंबर माह में चीन जाने की संभावना है. प्रधानमंत्री मोदी ने ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के पहले चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात के समय सीमा विवाद का मुद्दा उठाया.


मोदी-जिनपिंग की इस बैठक पर राजनीतिज्ञ प्रेक्षकों की नजर लगी हुई है. चीन, भारत का एक अहम पड़ोसी देश है. जिसके साथ सीमा विवाद के अलावा भी व्यापार अपने चरम पर है. आज भारत के बाजार चीनी वस्तुओं से भरे पड़े हैं. चीन को अपने व्यापार को बढ़ाने के लिये भारत के बाजार की आवश्यकता है. ऐसे में चीन, प्रधानमंत्री मोदी से संबंध बढ़ाना चाहता है.

गौरतलब है कि मोदी के गुजरात के प्रधानमंत्री रहते उन्होंने अमरीका की तुलना में चीन को व्यापार के लिये वरीयता दी थी. इस कारण से मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही चीनी सरकारी अखबार ने उन्हें भारतीय निक्सन के रूप में देखा था. दिलचस्प बात यह है कि अमरीकी राष्ट्रपति निक्सन ने चीन के साथ रिश्तों में जमीं बर्फ को तोड़ा था तथा आपसी व्यापार की शुरुआत की थी.

जाहिर है कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग, मोदी के साथ रिश्तो में गर्माहट लाना चाहते हैं वहीं मोदी सीमा विवाद पर समाधान चाहते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!